Tehri News

लो जी…तीसरी बार पिता बने उत्तराखंड के ग्राम प्रधान जी की कुर्सी गई, DM ने पद से हटाया


Ad
Ad
Ad
Ad

टिहरी: लीजिए उत्तराखंड के गढ़वाल से एक ऐसी खबर आई है जिसमें रोचकता की डोज थोड़ी ज्यादा है। यहां पर एक गांव के ग्राम प्रधान को अपनी कुर्सी से इसलिए हाथ धोना पड़ा क्योंकि उन्हें संतान प्राप्ति हो गई। सेम बासर गांव के प्रधान विक्रम नेगी को जिलाधिकारी ने उनके पद से हटा दिया। ऐसा इसलिए क्योंकि प्रधान साहब को तीसरी संतान हुई है। नियमों के अनुसार लिया गया ये फैसला देखते ही देखते क्षेत्र भर में चर्चा का विषय बन गया है।

पूरा मामला टिहरी गढ़वाल के भिलंगना ब्लाक के सेम बासर गांव का है। सेम बासर गांव के निवासी विक्रम नेगी साल 2021 में ग्राम प्रधान पद पर निर्वाचित हुए थे। लेकिन इसके बाद उनकी तीसरी संतान भी हो गई। बता दें कि इसके बाद विकेंद्र सिंह ने प्रशासन से शिकायत की थी। शिकायतकर्ता विकेंद्र सिंह का कहना है कि 2019 में विक्रम नेगी की दो संतान थी। अब अस्पताल में उनकी तीसरी संतान होने का भी पूरा ब्यौरा है।

मामले की जांच हुई तो प्रशासन द्वारा जांच में शिकायत सही पाई गई। जिसके बाद जिलाधिकारी कार्यालय की तरफ से 18 जनवरी 2022 को प्रधान विक्रम नेगी को अपना पक्ष रखने का मौका दिया गया। जब विक्रम नेगी डीएम के सामने पेश नहीं हुए, इसलिए अब 25 मार्च को जिलाधिकारी इवा आशीष श्रीवास्तव  ने प्रधान विक्रम नेगी को पद से हटाने के आदेश जारी कर दिए। गौरतलब है कि पंचायती राज एक्ट के मुताबिक प्रधान निर्वाचित होने के बाद भी संबंधित व्यक्ति की कार्यकाल के दौरान तीसरी संतान हो जाए, तो वह पद पर नहीं रह सकता है।

Join-WhatsApp-Group
To Top