Nainital-Haldwani News

संयोग देखिए,अपने ही प्रदेश के खिलाफ अनुज रावत ने खेली 95 रनों की चमत्कारी पारी


हल्द्वानी: रविवार का दिन उत्तराखंड क्रिकेट फैंस के लिए अहम था। राज्य की टीम का सामना दिल्ली के खिलाफ था लेकिन टीम को 4 विकेट से हार का सामना करना पड़ा। दिल्ली के लिए चमत्कारी पारी किसी और ने नहीं बल्कि उत्तराखंड रामनगर निवासी अनुज रावत ने खेली। उन्होंने नाबाद 95 रनों की पारी खेलकर सभी का ध्यान अपनी ओर कर दिया। फैंस राज्य की टीम की हार से निराश जरूर हुए लेकिन उन्हें खुशी है कि इस हार उत्तराखंड के टैलेंट की जीत हुई है।

विजय हजारे ट्रॉफी में अंतिम-8 पर जगह बनाने के लिए दोनों टीमें मैदान पर उतरी थी। उत्तराखंड ने पहले बल्लेबजी की और निर्धारित 50 ओवर में 8 विकेट के नुकसान पर 287 रन बनाए। स्कोर बड़ा जरूर था लेकिन दिल्ली टीम के अनुभव से सभी परिचित थे। उन्होंने इसकी छलक उन्होंने पेश की। 100 रनों रनों से पहले टीम के 5 बल्लेबाज पवेलियन पहुंच गए थे लेकिन इसके बाद भी दिल्ली 4 विकेट से मुकाबला जीतने में कामयाब रही। दिल्ली के नीतिश राणा, अनुज रावत और कप्तान प्रदीप सांगवान हीरो रहे।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी में होगी महानगरों की तरह पुलिस पेट्रोलिंग, पूरे शहर में घूमेगी डायल 112 स्कॉर्पियो

सबसे पहले राणा और रावत ने विकेट गिरने के सिलसिले को रोका और 62 रनों की साझेदारी की। नीतिश राणा के आउट होने के बाद उत्तराखंड की जीत दिखाई दे रही थी लेकिन रावत और सांगवान ने काउंटर अटैक शुरू कर दिया। दोनों ने 16 ओवर में 143 रन जोड़ डाले और टीम को अंतिम 8 में पहुंचाया।

अनुज रावत ने 85 गेंदों में नाबाद 95 रनों की पारी खेली। उनकी इस पारी में 7 चौके और 6 छक्के शामिल थे। वहीं प्रदीप सांगवान ने 49 गेंदों में 58 रन बनाए। उन्होंने 6 चौके और 2 छक्के जमाए। उत्तराखंड की ओर से गेंदबाजी में समथ फल्लाह को 2, मयंक मिश्रा 1, आकाश मधवाल 1 और दीक्षांशु नेगी को एक विकेट हासिल हुआ।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी में अब घर-घर डॉक्टर करेंगे होम आइसोलेशन में रहे मरीजों की जांच

पहाड़ का अनुज रावत बना हीरो

अनुज रावत ने जिस जगह से क्रिकेट खेलना शुरू किया था, उसी के खिलाफ उन्होंने यादगार पारी खेली है। नैनीताल जिले के रहने वाले अनुज रावत साल 2017 में दिल्ली घरेलू टीम का हिस्सा बनें। उस वक्त उत्तराखंड को मान्यता प्राप्त नहीं थी। दिल्ली में उनके खेल ने पूर्व क्रिकेट गौतम गंभीर को भी प्रभावित किया था और तभी से वह टीम के साथ हैं।

अनुज रावत लगातार अच्छे प्रदर्शन के बल पर भारतीय अंडर-19 टीम में भी चुने गए। उन्हें साल 2018 में श्रीलंका दौरे के लिए कप्तान भी बनाया गया था। श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट सीरीज़ भारत ने 2-0 से अपने नाम की थी। अनुज रावत बतौर सलामी बल्लेबाज व मीडिल ऑर्डर में भी सकते हैं।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी टी-20 कप में दीक्षांशु नेगी ने जड़ा ताबड़तोड़ शतक, जड़ डाले 15 छक्के- वीडियो देखें

उनका अंदाज आक्रमण है। इसे देखते हुए राजस्थान रॉयल्स ने उन्हें साल 2020 आईपीएल में अपनी टीम में चुना था। अनुज रावत के पिता वीरेंद्र सिंह ने भी बताया कि आईपीएल से उन्हें काफी फायदा हुआ है और यही उन्हें उत्तराखंड के खिलाफ मुकाबले में भी दिखाया।

कहते हैं ना एक पारी करियर बदल सकती है और हो सकता है उत्तराखंड के खिलाफ खेली पारी अनुज रावत के करियर का नया अध्याय लिखे। अनुज रावत को हल्द्वानी लाइव की ओर से भविष्य के लिए हार्दिक शुभकामनाएं।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top