Nainital-Haldwani News

उत्तराखंड: सहायक लेखाकार परीक्षा रद्द करने की मांग, युवा बोले ऐसे तो कभी कामयाब नहीं होंगे


हल्द्वानी: सहायक लेखाकार परीक्षा के अभ्यर्थियों की ओर से बृहस्पतिवार को तिकोनिया स्थित श्री राय बहादुर पार्क में आयोग सचिव के खिलाफ विरोध प्रदर्शन और नारेबाजी की गई। परीक्षा रद्द करने की मांग की गई। अभ्यर्थियों ने कहा कि 12 से 14 सितंबर तक हुई सहायक लेखाकार की परीक्षा का पैटर्न पूरी तरह नया था, जिसकी किताबें तक बाजार में उपलब्ध नहीं हैं। जिसके चलते सालों से तैयारी कर रहे अभ्यर्थियों का मनोबल टूटा है। परीक्षा का कोरोना काल के दौरान फरवरी में 80% सिलेबस बढ़ाया गया, इसी के बाद सितंबर में परीक्षा पैटर्न भी सीए जैसी परीक्षाओं से भी अधिक स्तर का दिया गया, जिसका अभ्यर्थी अनुमान तक नहीं लगा सकते हैं।


वहीं परीक्षा में हिंदी माध्यम में तमाम वाक्यों में गलतियां थी जिससे हिंदी के छात्र विश्लेषणात्मक प्रश्नों को समझ तक नहीं पाए। अभ्यर्थियों का कहना था कि आयोग ने हमारे भविष्य के साथ खिलवाड़ किया है। छह महीने इस परीक्षा की तैयारी में देने के बाद अब किसी अन्य परीक्षा की तैयारी का भी समय नहीं बचा है। इस परीक्षा में आयोग अभ्यर्थियों के साथ साजिश जैसी नीति अपनाएगा इसका अनुमान नहीं था। अभ्यर्थियों ने एकमुश्त होकर परीक्षा रद्द करके पुराने पैटर्न पर ऑफलाइन कराने की मांग की।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी निवासी शिखा पांडे बना रही है ऐपण वाले दीए, देशभर से मिल रहे बंपर ऑर्डर

इस दौरान मुख्यमंत्री के लिए ज्ञापन भी भेजा गया। विरोध में छात्र नेता विशाल भोजक, समाजसेवी शैलेन्द्र दनु ने भी सहयोग किया। इस दौरान विरोध प्रदर्शन में विकास यादव, उदित कुशवाह, भूपेंद्र बिष्ट, रोहित दानी, हिमांशु पाठक, आकांशा जोशी, दिलीप, सूरज मिश्र, कमल सिंह, ललित, त्रिभुवन बगड़वाल, देवेंद्र, उमेश, विनोद, विमल, दलीप सिंह आदि थे।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड आपदा: AAP ने भाजपा सरकार पर लगाए भ्रष्टाचार व लापरवाही के आरोप, किया मौन धरना प्रदर्शन

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad - Vendy Sr. Sec. School

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top