Uttarakhand News

शहीदों के खिलाफ टिप्पणी की तो मिलेगी कड़ी सज़ा…उत्तराखंड CM धामी ने दी चेतावनी


शहीदों के खिलाफ टिप्पणी की तो मिलेगी कड़ी सज़ा...उत्तराखंड CM धामी ने दी चेतावनी
Ad
Ad

देहरादून: बीते दिनों हेलिकॉप्टर क्रैश में देश के पहले सीडीएस जनरल बिपिन रावत (CDS General Bipin Rawat), उनकी पत्नी और भारतीय सेना से जुड़े 11 अन्य जनों की शहादत पर कुछ असामाजिक तत्व लगातार टीका टिप्पणी कर रहे हैं। इसकी बानगी हाल ही में अन्य राज्यों में भी देखने को मिली है। अब मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी (CM Pushkar Singh Dhami) ने उत्तराखंडवासियों को भी इस बारे में चेतावनी दे दी है।

Ad
Ad

गौरतलब है कि बुधवार को भीषण हादसे (helicopter crash in Tamilnadu) में देश ने 13 पुण्यात्माओं व देश के रक्षा सूत्रों को खो दिया। इसे लेकर उत्तराखंड व देश के कोने कोने में शोक की लहर है। शुक्रवार को सीडीएस बिपिन रावत और उनकी पत्नी समेत बाकी मृत आत्माओं का विधि विधान और पूरे सम्मान के साथ अंतिम संस्कार भी कर दिया गया।

ये कोई कहने वाली बात नहीं है लेकिन हर जगह ऐसे कुछ असामाजिक तत्व जरूर मौजूद होते हैं जो देश के खिलाफ होने में अधिक देर नहीं लगाते। ऐसे ही लोगों पर केंद्र सरकार व राज्य सरकार (Uttarakhand government) अब सख्त हो गई है। दरअसल सीडीएस बिपिन रावत के निधन पर कई विक्षिप्त मानसिकता वाले लोगों ने सोशल मीडिया पर खुलकर हंसी मजाक किया।

यह भी पढ़ें 👉  रेलवे के फैसले से उत्तराखंड की दो ट्रेनों को मिलेगा फायदा

लेकिन अब उत्तराखंड में ये बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। सीएम धामी ने ट्वीट करते हुए सरकार की मंशा साफ कर दी है। सीएम धामी ने फैसला लिया है कि अगर उत्तराखंड में ऐसा होगा तो ऐसे लोगों को चिन्हित कर उन पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने लिखा कि हमारे लिए हमारे सैनिकों (soldiers) का सम्मान सर्वोच्च है। दिवंगत जनरल बिपिन रावत जी सदैव उत्तराखण्ड का स्वाभिमान रहेंगे।

यह भी पढ़ें 👉  रेलवे के फैसले से उत्तराखंड की दो ट्रेनों को मिलेगा फायदा

साथ ही मुख्यमंत्री ने चेतावनी दी और कहा कि यदि किसी शरारती तत्व ने, कुत्सित मानसिकता का परिचय देते हुए सोशल मीडिया (social media) या किसी भी अन्य रूप में दिवंगत सैनिकों पर कोई आपत्तिजनक टिप्पणी की तो हमारी सरकार द्वारा उसके खिलाफ विधिसम्मत कठोरतम दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी।

Join-WhatsApp-Group
Ad
Ad
Ad
To Top