Dehradun News

उत्तराखंड:कोतवाल की विदाई पर जमकर बरसे फूल,भावुक जनता ने कहा असली हीरो हैं सकलानी सर


ऋषिकेश: पुलिस की छवि लोगों के मध्य कैसी है, इससे तो हर कोई वाकिफ ही है। मगर कुछ कहानियां ऐसी होती हैं जिसे सुनकर केवल दिल से दुआएं निकलती हैं। जब- जब पुलिसकर्मियों के अंदर का हीरो बाहर आता है, खुशी होती है। हरिद्वार जिले के एक थाने के समाज सेवी कोतवाल की विदाई समारोह में लोगों का जनसमर्थन देख यह साफ हो गया कि जनसेवा से बड़ा कोई धर्म नहीं है।

ऋषिकेश के मुनि की रेती थाने के कोतवाल राम किशोर सकलानी ने अपने तीन साल के कार्यकाल में जनता के बीच जो अमिट छाप छोड़ी है। वह वाकई सराहनीय है। कोतवाल सकलानी का नेक दिल और जनहित में काम करना लोगों को उनसे इस कदर जोड़ गया कि उनके विदाई समारोह में हुजूम उमड़ पड़ा।

यह भी पढ़ें: कोरोना के साथ बढ़ा लॉकडाउन का डर,महानगरों से उत्तराखंड वापस लौटने लगे हैं प्रवासी

यह भी पढ़ें: बिना मास्क वालों की जेब ढ़ीली,एक दिन में उत्तराखंड पुलिस ने वसूला 2.29 लाख रुपए का जुर्माना

मूल रूप से देहरादून जिले के रहने वाले 45 वर्षीय राम किशोर सकलानी तकरीबन तीन साल से मुनि की रेती के कोतवाल पद पर कार्यरत थे। 18 सालों से पुलिसिंग की ड्यूटी निभा रहे राम किशोर सकलानी के तबादले पर क्षेत्रीय लोगों ने ना सिर्फ उनका सम्मान किया बल्कि उन पर फूलों की बरसात कर दी।

यह भी पढ़ें 👉  प्रकाश ट्रेडर्स हल्द्वानी: इलेक्ट्रिक स्कूटी में मिल रही है 50 हजार से ज्यादा की सब्सिडी

इलाके के वासियों से मिली जानकारी के अनुसार राम किशोर सकलानी एक पुलिसकर्मी होने के साथ समाज सेवी भी हैं। उन्होंने क्षेत्र के युवाओं के भीतर आर्मी और पुलिस को लेकर जोश भरने के साथ साथ ट्रेनिंग के लिए सेंटर तक खोले। स्थानीय व्यापारी के अनुसार कोतवाल सकलानी के ट्रेनिंग सेंटर की बदौलत ही अब तक इलाके के 17 युवा सेना का फिजिकल टेस्ट पास कर चुके हैं जबकि कुछ अन्य युवा सरकारी नौकरी भी पा चुके हैं। बता दें कि आरके सकलानी द्वारा चलाए जा रहे सेंटर में तैनात चार प्रशिक्षकों को वह वेतन भी अपनी जेब से देते हैं।

यह भी पढ़ें 👉  GGIC समेत हल्द्वानी के 23 स्कूलों में होगी कोरोना जांच, डीएम बोले बच्चों की सुरक्षा जरूरी

यह भी पढ़ें: नैनीताल में वाट्सएप ने बचाई युवती की जिंदगी, चार बच्चों के बाप की खोली पोल

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में तेजी से बढ़ रहा है कोरोना वायरस, कंटेनमेंट जोन बढ़े और रिकवरी दर गिरी

लोग बताते हैं कि अपनी नौकरी के साथ साथ उन्होंने गरीब तबके को भी अपना ज़िमेमदारी का हिस्सा माना। यही कारण रहा कि वे कभी भी बच्चों की आर्थिक मदद और शैक्षिक मदद के लिए पीछे नहीं हटे। महिलाओं के लिए भी राम किशोर सकलानी ने अपने कार्यकाल में बेहतर प्रयास किए। तपोवन की क्षेत्र पंचायत सदस्य ने बताया कि आधी रात को भी कोतवाल सकलानी महिलाओं की समस्याओं के लिए मौजूद रहते थे।

यह भी पढ़ें 👉  पेट्रोल की कीमतों से घबराएं नहीं,स्कूटी में भी लगा सकते हैं CNG किट

इस मौके पर कोतवाल राम किशोर सकलानी ने कहा कि उन्होंने अपनी प्राथमिकताओं के हिसाब से महिलाओं, युवाओं को सपोर्ट किया। साथ ही जनता के प्यार के लिए आभार भी व्यक्त किया। इंस्पेक्टर ने कहा कि वह यहां से जाने के बाद भी क्षेत्र से हमेशा जुड़े रहेंगे। साथ ही ट्रेनिंग सेंटरों में मुफ्त में कोचिंग जारी रहेगी।

यह भी पढ़ें: देहरादून और हरिद्वार में बिगड़ रहे हैं हालात, रविवार को उत्तराखंड में 550 कोरोना केस मिले

यह भी पढ़ें: चुनावी हवा को भाजपा की ओर करने वेस्ट बंगाल पहुंचे स्टार प्रचारक सतपाल महाराज

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad - Vendy Sr. Sec. School
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top