Pithoragarh News

पिथौरागढ़ के धापा गांव में भारी बारिश से खतरा, 12 परिवारों ने अपने मकान छोड़े


File Photo
Ad
Ad
Ad
Ad

पिथौरागढ़: राज्य के पहाड़ी इलाकों में पिछले कुछ दिनों से बारिश के आसार बने हैं। कहीं-कहीं पर बारिश इतनी ज्यादा हो गई है कि मॉनसून से पहले ही खतरा बढ़ने लगा है। सीमांत जिले में ऐसा ही हुआ है। मुन्सियारी के धापा गांव के 12 मकान खतरे की जद में आ गए हैं। भारी बारिश के कारण लोगों को अपने मकान खाली करने पड़े हैं।

बता दें कि तहसील क्षेत्र में कुछ दिनों से भारी बारिश होने की वजह से कई घरों में मलबा घुस गया है। बताया जा रहा है कि यहां पर मंगलवार की रात से ही बारिश हो रही है। बुधवार को कुछ देर बारिश रुकी थी। लेकिन उसके बाद फिर से बारिश ओलावृष्टि के साथ शुरू हो गई। मलबा घुसने के कारण 12 घरों पर खतरा बढ़ गया था।

यह भी पढ़ें 👉  नैनीताल समेत कुमाऊं के चार जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी

संभावित आपदा के खतरे को देखते हुए 12 परिवारों ने अपने मकान को छोड़ दिया। जिसके बाद उन्होंने सुरक्षित जगहों में शरण ले ली है। बता दें कि बारिश का इंतजार सभी को था। लेकिन अब इस बारिश से लोग सहम गए हैं। अब से 2 साल पहले भी गांव में भूस्खलन होने के कारण 25 परिवारों ने गांव छोड़ दिया था। इस बार भी ग्रामीणों को डर सता रहा है। फिलहाल प्रशासन से सुरक्षा के इंतजाम कराए जाने की मांग की गई है।

Join-WhatsApp-Group
To Top