Dehradun News

वीकेंड पर पत्नी के साथ उत्तराखंड आ रहे डॉक्टर ने खुद को गोली मारी, CCTV में कैद हुई थी हलचल

Ad
Ad
Ad
Ad

देहरादून: खुदकुशी के मामले वैसे भी सबको हिलाकर रख देते हैं। लेकिन आत्महत्या के कुछ मामले दुख की सारी सीमाओं को तोड़ देते हैं। ऐसा ही एक मामला सामने आया है। शामली से अपने घर देहरादून आ रहे एक डॉक्टर ने पत्नी से कुछ बातचीत के बाद अपने आप को गोली मार ली। खुदकुशी के कारणों के लिए पुलिस जांच पड़ताल कर रही है।

दरअसल देहरादून निवासी 60 वर्षीय डॉ. आरपी सिंह शामली के बुढ़ाना रोड पर स्थित कैलाश अस्पताल चलाते हैं। वह वीकेंड पर अपनी पत्नी डॉ. अलका के साथ देहरादून आ रहे थे। बीते रात नौ बजे के आसपास दोनों फतेहपुर थाना क्षेत्रांतर्गत छुटमलपुर-सहारनपुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर टोल प्लाजा से पहले डिलाइट एंब्रोसिया रेस्टोरेंट पर अपनी बलेनो कार से पहुंचे।

सीसीटीवी कैमरों में देखा गया कि पहले डॉ आरपी सिंह की पत्नी बाथरूम चले गई। तब वह कार के आसपास बाहर ही घूमते रहे। इस दौरान वह दोनों कभी गाड़ी में बैठ रहे थे कभी बाहर आ रहे थे। इसके 20 मिनट के बाद डॉ आरपी सिंह गाड़ी से थोड़ा आगे आए और खुद को गोली मार ली। आवाज सुनने के बाद पत्नी उनके पास आई तो देखा कान से खून बह रहा था।

यह भी पढ़ें 👉  मॉल रोड पर अब हर रोज पांच घंटे के लिए गाड़ियों की NO ENTRY, खबर पढ़ें

उन्होंने अपनी लाइसेंसी पिस्टल से गोली मार कर आत्महत्या कर ली थी। पत्नी चिल्लाई तो रेस्टोरेंट का स्टाफ भी दौड़ कर मौके पर पहुंच गया। पुलिस को सूचना मिली तो एसपी देहात अतुल शर्मा, सीओ सदर अजेंद्र कुमार और एसओ सतेंद्र नागर फॉरेसिंक टीम के साथ घटना स्थल पर पहुंचे। बता दें कि शव का पंचनामा भर कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड की स्कूल बस ने 14 वर्षीय आर्यन को कुचला, बेटे की मौत से सदमे में परिवार

एसएसपी आकाश कुमार ने जानकारी दी और बताया कि पूछताछ में पत्नी से जानकारी मिली। जिसने बताया कि देहरादून जाते समय रास्ते में डॉ. आरपी सिंह को बैचनी हो रही थी। उनका कहना था कि गाड़ी नहीं चलाई जा रही है। इस पर पत्नी ने भाई को बुलाने का कहा तो उन्होंने मना कर दिया। फिलहाल आत्महत्या का कारण स्पष्ट नहीं हो पाया है। जांच चल रही है।

Join-WhatsApp-Group
Ad
To Top