Nainital-Haldwani News

हल्द्वानी MAXFACE क्लीनिक रखेगा आपके बच्चों का ख्याल, हर रविवार फ्री OPD

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

हल्द्वानी: समस्याओं की शुरुआत होते ही उनपर ध्यान दिया जाए तो इंसान को काफी चुनौतियों से स्वयं ही निपटारा मिल सकता है। लोग आमतौर पर दंत रोगों या दांत से जुड़ी किसी भी बीमारी को अधिक तवज्जों नहीं देते लेकिन जब परेशानी बढ़ती है तब दिक्कत मालूम पड़ती है। बच्चों के दांतों पर माता पिता बचपन में ध्यान नहीं देते, जो बड़े होकर उनके लिए समस्या बन जाती है। इस विषय में जागरुकता फैलाना आवश्यक है और इस जिम्मेदारी को डॉ. रुद्राक्ष पंत बाखूबी निभा रहे हैं। मैक्सफेस क्लीनिक में हर रविवार 18 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए निशुल्क ओपीडी की शुरुआत हो गई है।

हल्द्वानी लालडांठ स्थित मैक्सफेस डेंटल क्लीनिक में पिछले कई वर्षों से त्वचा, बाल व दंत रोगों का उपचार किया जा रहा है। लोगों को दंत रोगों के संबंध में जागरुक करने हेतु मैक्सफेस क्लीनिक के डॉ. रुद्राक्ष पंत ने एक नई योजना का शुभारंभ किया है। अब क्लीनिक में 18 साल से कम उम्र के बच्चों को हर रविवार निशुल्क ओपीडी का लाभ मिलेगा। जहां बच्चे आकर अपने दांतों का निरंतर रूप से चेकअप करा सकेंगे। साथ ही किसी भी तरह की बीमारी के सामने आने पर उनका इलाज भी क्लीनिक में ही किया जा सकेगा।

डॉ. रुद्राक्ष पंत ने बताया कि अधिकतर मामलों में दांतों की समस्याएं बचपन से ही शुरू हो जाती हैं। दूध के दांतों पर बच्चे व उनके माता पिता उतना ध्यान नहीं देते। जिस वजह से दांत ऊपर नीचे गलत स्थान पर निकल जाते हैं। इससे चेहरे के आकार पर भी असर पड़ता है। इसके अलावा कई अन्य दिक्कतों की नींव बचपन में की गई लापरवाहियों के कारण ही फलती फूलती है। डॉ. रुद्राक्ष पंत ने कहा कि इसी के दृष्टिगत उन्होंने क्लीनिक में बच्चों की निशुल्क ओपीडी की योजना शुरू की है। खासकर आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों के लिए यह योजना काफी लाभदायक सिद्ध हो सकती है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी निवासी व्लॉगर की कार, नैनीताल हाईवे पर हादसे का शिकार

बता दें कि लालडांठ में गौरा कांपलेक्स स्थित मैक्सफेस क्लीनिक का संचालन डॉ. रुद्राक्ष पंत और डॉ. मनिका रावत द्वारा किया जाता है। मैक्सफेस क्लीनिक की सबसे खास बात ये है कि यहां डेंटल ट्रीटमेंट हमेशा ही आधुनिकता के साथ किया जाता है। इसका मतलब है कि क्लीनिक में लगभग वो सभी मशीनें या उपकरण मौजूद हैं, जिनसे मरीज को आराम मिल सकता है। क्लीनिक में आधुनिक मशीनों के साथ जांच की जाती हैं।

To Top