National News

जानिए कितनी होती है एक IAS अफसर की सैलरी, कौन -कौन सी सेवा – सुविधा का मिलता है लाभ


Ad
Ad

नई दिल्ली : संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी ) को भारत की सबसे कठिन परिक्षाओं में पहला स्थान दिया गया है । लेकिन इसके बावजूद भी हर साल लाखों युवा इस परिक्षा में बैठते हैं । शायद लाल बत्ती वाली गाड़ी में बैठना और ढ़ेर सारे सम्मान से नवाजा जाने का सपना ही युवकों को इस परीक्षा में बैठने का जोश देता है। लेकिन क्या आपने सोचा हैं कि इसके आलावा ऐसे और कौन से कारण हो सकते हैं जिसकी वजह से इंजीनियर, डॉक्टर जैसे पेशे से जुड़े बहुत सारे युवा अपनी अच्छी खासी नौकरी और लाखों का पैकेज छोड़कर इसमें शामिल होते हैं। दरअसल आईएएस की उपाधि के साथ ही इस नौकरी के लिए भारत की टॉप क्लास सेवाएं शामिल हैं । आज हम आपको उन्हीं सेवा – सुविधा और आईएएस अफसर के वेतन के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं ।

Ad
Ad

यूपीएससी की परीक्षा में सफलता हासिल करने के बाद भारतीय प्रशासनिक सेवा यानि आईएएस रैंक पाने वाले अभ्यर्थियों को देश की नौकरशाही व्यवस्था में काम करने का मौका मिलता है। परीक्षा में भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस), भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) और भारतीय विदेश सेवा (आईएफएस) समेत 25 से अधिक वर्ग की सेवाएं होती हैं जिसमें रैंक के हिसाब से नियुक्ति की जाती है । इसमें आईएएस को सबसे प्रमुख माना जाता है। आईएएस बनने वाले अभ्यर्थी प्रशासनिक व्यवस्था संभालते हैं और जिलाधिकारी से लेकर कैबिनेट सचिव तक का पद उन्हें मिलता हैं। कैबिनेट सचिव के पद को आईएएस अधिकारी की सबसे ऊंची रैंक माना गया हैं ।

परीक्षा में सफलता प्राप्ति के बाद आईएएस बनने वाले अभ्यर्थियों को देश की प्रतिष्ठित नौकरशाही संभालने का मौका मिलता है । इसी के साथ एक बहुत ही शानदार सैलरी पैकेज और कई सारी अन्य सुविधाएं भी प्रदान की जाती हैं। 7वें वेतन आयोग के मुताबिक एक आईएएस अधिकारी का मूल वेतन 56,100 रुपये होता है। आईएएस अफसर को सेलरी के साथ ही कई अन्य सारे भत्ते भी दिए जाते हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक आईएएस अफसर की कुल सेलरी 1 लाख रुपये से ज्यादा होती है। सबसे वरिष्ठ रैंक कैबिनेट सचिव का वेतन 2,50,000 तक होता है। सिर्फ वेतन तक ही नहीं अधिकारियों को इसके साथ ही अपने घर व गाड़ी के खर्चे से भी बचाया जाता है ।

आईएएस अधिकारी के पद को कई सारी सुविधाओं का लाभ मिलता है । जिसमें यात्रा भत्ता, महंगाई भत्ता और घर किराया जैसे भत्ते शामिल हैं। यानी अपने वेतन से आम घर खर्च में पैसा लगाने की आवश्यक्ता आईएस अफसर को नहीं पड़ती । आईएएस को कहीं जाने के लिए गाड़ी और ड्राइवर की सुविधा भी दी जाती है। जिसे आपने बहुत बार देखा भी होगा इसके साथ ही आईएएस अफसर को पोस्टिंग के दौरान कई बार अन्य जगहों पर भी भेजा जाता है। ऐसे मौकों पर उन्हें वहां भी रहने के लिए सरकारी घर दिया जाता है। इतनी सारी सुविधाएं सम्मान और अच्छा वेतन ही शायद किसी अन्य सरकारी नौकरी में मिल सकता है ।

Join-WhatsApp-Group
Ad
Ad
Ad
To Top