Nainital-Haldwani News

बड़ी राहत: हल्द्वानी के सुशीला तिवारी अस्पताल में जल्द शुरू होगा आम मरीजों का इलाज! प्लान पर डालें नजर


बड़ी राहत: हल्द्वानी के सुशीला तिवारी अस्पताल में जल्द शुरू होगा आम मरीजों का इलाज! प्लान पर डालें नजर

हल्द्वानी: कोरोना संक्रमण के मामले लगातार कम हो रहे हैं। देश, प्रदेश, जिले में भी मामले पहले से काफी घट गए हैं। ताजा बुलेटिन के अनुसार जिले में कोरोना संक्रमण के 127 नए मामले सामने आए हैं। एसटीएच में छह मरीज स्वस्थ होकर डिस्चार्ज किए गए। अब कम होते संक्रमण के चलते सुशीला तिवारी अस्पताल से दबाव भी कम हो रहा है। इसी कारण अस्पताल प्रबंधन आम मरीजों के लिए ओपीडी खोलने पर मंथन कर रहा है। लिहाजा इसमें बड़ी मदद नए बने जनरल बीसी जोशी कोविड अस्पताल की लगेगी।

कोरोना मरीजों की संख्या लगातार घटने का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि एसटीएच में ही केवल 120 मरीज रह गए हैं। जबकि अस्पताल में 12 आइसीयू व 311 ऑक्सीजन बेड खाली हो चुके हैं। अब बचे हुए भर्ती मरीजों को अस्पताल प्रशासन अस्थायी अस्पताल में भर्ती करने का प्लान बना रहा है। जिसके बाद एसटीएच में अन्य मरीजों के लिए ओपीडी खोल दी जाएगी। हालांकि अभी अंतिम निर्णय लेना बाकी है।

यह भी पढ़ें 👉  धनतेरस पर हल्द्वानी शहर को बनाया जाएगा जीरो जोन, कुछ ऐसा होगा ट्रैफिक प्लान

दरअसल रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) द्वारा 36 करोड़ से अधिक की लागत से बनाया गया अस्पताल एसटीएच द्वारा ही संचालित किया जाना है। फिलहाल 30 डाक्टर, 22 स्टाफ नर्स समेत अन्य की ड्यूटी तय की है। इसी अस्पताल की मदद से एसटीएच में ओपीडी खोलने की तैयारी की जा रही है। अगर ऐसा होता है तो आम मरीजों को खासी राहत मिलने की उम्मीद है।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में उपनल ने निकाली 100 से ज्यादा भर्ती, एक क्लिक पर करें अप्लाई

यह भी पढ़ें 👉  पटवारी परीक्षा में फर्जीवाड़े गए पकड़े , दोस्त की जगह परीक्षा में बैठा था युवक

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड पुलिस ने कानून व्यवस्था के लिहाज से पूरे देश में मारा टॉप, नीति आयोग ने जारी की रिपोर्ट

एसटीएच के चिकित्सा अधीक्षक डा. अरुण जोशी ने कहा कि अस्थायी कोविड अस्पताल के संचालन की जिम्मेदारी हमें मिली है। ऐसे में शुक्रवार को आगे के प्लान पर बैठक हुई। प्लान यह है कि कोरोना मरीजों को अस्थायी अस्पताल में भर्ती कर एसटीएच में सामान्य मरीजों के लिए ओपीडी खोल दी जाए। उन्होंने कहा कि तैयारी पूरी होने पर जल्द ही इस मामले में निर्णय ले लिया जाएगा।

जब से कोरोना महामारी की दूसरी लहर प्रदेश में आई है, तभी से सुशीला तिवारी अस्पताल में ओपीडी बंद हैं। कुमाऊं के कोरोना मरीजों को अच्छा इलाज देने के लिए यह फैसला लिया गया था। अब इस वजह से आम बीमारियों से पीड़ित मरीज खासे परेशान हो रहे हैं। इससे आम लोगों को खासी समस्या उठानी पड़ रही है। उन्हें इलाज नहीं मिल पा रहा है। बहरहाल एसटीएच प्रशासन के प्लान के अनुसार ओपीडी जल्द खोली जा सकती हैं।

यह भी पढ़ें 👉  यात्रियों की टेंशन खत्म, हल्द्वानी से नैनीताल के लिए रोडवेज बस सेवा शुरू

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड के राशनकार्ड धारकों के लिए नया अपडेट, चीनी को लेकर जारी हुए निर्देश

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी: वीडियो कॉल कर परिवार को दी थी सुसाइड की धमकी,जंगल में मिला युवक का शव, सनसनी

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: फर्जी रिपोर्ट से हो रही थी सीमा में एंट्री, कैबिनेट मंत्री ने बॉर्डर पर पहुंचकर पकड़ी गड़बड़ी

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड:जांच हेतु सैंपल नहीं दिए तो बंद हो जाएगा ग्रामीणों का घर से बाहर निकलना,DM का सख्त फैसला

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad - Vendy Sr. Sec. School

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top