Nainital-Haldwani News

शोभित जोशी बने IFS ऑफिसर, सरकारी अफसर बनने के बाद भी नहीं छोड़ी जिद और अब मिली कामयाबी

हल्द्वानी: संघ लोक सेवा आयोग की भारतीय वन सेवा परीक्षा (IFS 2022) के नतीजे जारी हो गए हैं। उत्तराखंड के शोभित जोशी ने ऑल इंडिया छठी रैंक हासिल की है और राज्य के युवाओं की काबिलियत को साबित किया है। उत्तराखंड के बच्चे खेल के मैदान से लेकर शिक्षा और व्यापार में तेजी से आगे बढ़ रहे हैं। पिछले महीने जारी हुए संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) नतीजों में भी उत्तराखंड के कई युवाओं को कामयाबी मिली थी। अब शोभित ने उत्तराखंड के लोगों को गौरवान्वित महसूस कराया है।

जानकारी के मुताबिक, शोभित जोशी मूल रूप से अल्मोड़ा जिले के सोमेश्वर क्षेत्र के क्वैराली गांव का रहने वाले हैं। करीब चार दशकों से उनका परिवार हल्द्वानी में रह रहा है। हल्द्वानी पीलीकोठी दुर्गापाल कॉलोनी निवासी शोभित जोशी वर्तमान में बतौर सहायक वन संरक्षक, उत्तराखंड, काेयंबटूर में स्टेट फॉरेस्ट सर्विस के लिए प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं। उनके पिता का नाम मनोहर जोशी है जो राजस्व विभाग से सेवानिवृत्त हैं। उनकी मां कमला जोशी हाउस मेकर हैं। शोभित की कामयाबी के बाद उनके गांव से लेकर हल्द्वानी आवास में लोग बधाई देने पहुंच रहे हैं।

शोभित ने हल्द्वानी स्थित बियरशिवा स्कूल से 12वीं तक की पढ़ाई की है। इसके बाद बीटेक और एमटेक किया। वह लोनिवि में सहायक अभियंता पद पर भी काम कर चुके हैं। शोभित के बड़े भाई अंकित जोशी श्रम कार्यालय में प्रशासनिक अधिकारी हैं।

संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) ने भारतीय वन सेवा परीक्षा, 2022 का अंतिम परिणाम जारी कर दिया है। परीक्षा में शामिल रहे उम्मीदवार अपना रिजल्ट आधिकारिक वेबसाइट upsc.gov.in से देख और डाउनलोड कर सकते हैं। इस भर्ती परीक्षा के माध्यम से विभिन्न श्रेणियों में नियुक्ति के लिए कुल 147 उम्मीदवारों को सफल घोषित किया गया है।संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) ने भारतीय वन सेवा परीक्षा, 2022 का अंतिम परिणाम जारी कर दिया है। परीक्षा में शामिल रहे उम्मीदवार अपना रिजल्ट आधिकारिक वेबसाइट upsc.gov.in से देख और डाउनलोड कर सकते हैं। इस भर्ती परीक्षा के माध्यम से विभिन्न श्रेणियों में नियुक्ति के लिए कुल 147 उम्मीदवारों को सफल घोषित किया गया है।

To Top