Election Talks

नया साल नई शुरुआत,ताबड़तोड़ ट्वीट के बाद UKD अध्यक्ष से मिलने पहुंचे हरीश रावत


Ad
Ad

हल्द्वानी :चुनाव से पहले पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के ताबड़तोड़ ट्वीट से उत्तराखंड में सियासत का पारा 100 के पार चल रहा है। बुधवार को उन्होंने कई ऐसे ट्वीट किए जिसमें विश्राम, नई शुरुआत और अपने दल में चल रही अनबन की तरफ इशारा किया। इसके अलावा वह ताबड़तोड़ ट्वीट के बाद उत्तराखंड क्रांति दल के अध्यक्ष से भी मिलने पहुंचे। अपने ताबड़तोड़ ट्वीट के बाद हरदा ने अपनी इस मुलाकात के बारे में अपने सोशल मीडिया हेंडल पर भी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि आने वाले वक्त में वह पत्रकारों को खुद जानकारी दे देंगे। उन्होंने सही समय का इंतजार करने की बात कही।

Ad
Ad

बुधवार को हरदा ने तीन ट्वीट्स किए, जिसमें उन्होंने राज्य कांग्रेस संगठन और आलाकमान पर कई सवाल खड़े करते हुए पार्टी छोड़ने और राजनीति से संन्यास लेने का संकेत दिया। इन ट्वीट्स के बाद तो जैसे बवाल ही मच गया। हरीश रावत के सलाहकार सुरिंदर अग्रवाल ने कहा, ”अगर उनके पोस्टर राहुल गांधी की रैली से देवेंद्र यादव की उपस्थिति में हटा दिए जाएं तो पार्टी में उनकी भूमिका संदेह के घेरे में आती है।इस बात की संभावना पूरी है कि हरीश रावत के खिलाफ षडयंत्र में देवेंद्र यादव की भूमिका हो। ‘

हरीश रावत ने यूकेडी दो बड़े नेताओं काशी सिंह ऐरी व पुष्पेश त्रिपाठी से मुलाकात की। इस पहाड़ी राज्य की राजनीति में इस मुलाकात के कई मायने निकाले जा रहे हैं। कई राजनीतिक विशेषज्ञों की मानें तो अगर हरीश रावत कांग्रेस छोड़कर यूकेडी में शामिल होते हैं तो पार्टी को एक नया जीवन मिल सकता है और उत्तराखंड का चुनाव बेहद रोचक हो जाएगा। कुमाऊं क्षेत्र में कांग्रेस की ओर से जनता हरीश रावत को मुख्यमंत्री का चेहरा मानती है।

Join-WhatsApp-Group
Ad
Ad
Ad
To Top