Uttarakhand News

IAS दीपक रावत बने उत्तर क्षेत्रीय विद्युत समिति के अध्यक्ष


UPCL के एमडी पद से मुक्त हुए IAS दीपक रावत, अनिल कुमार को मिली जिम्मेदारी
Ad
Ad

देहरादून: यूपीसीएल और पिटकुल के प्रबंध निदेशक आईएएस दीपक रावत को उत्तर क्षेत्रीय विद्युत समिति का अध्यक्ष बनाया गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार उन्होंने कार्यभार ग्रहण भी कर लिया है। आईएएस दीपक रावत को साल 2021-22 के लिए उत्तर क्षेत्रीय विद्युत समिति का अध्यक्ष बनाया गया है। बता दें कि उत्तर क्षेत्रीय विद्युत समिति इंटरेस्ट रेट ट्रांसमिशन सिस्टम से संबंधित योजनाओं को बेहतर बनाने की ओर काम करती है। उत्तर भारत के विभिन्न राज्यों में विद्युत से जुड़े तमाम कार्यों की निगरानी और बेहतर व्यवस्थाएं बनाना समिति की प्राथमिकता होती है।

Ad
Ad

दूसरी ओर यूपीसीएल के प्रबंध निदेशक के तौर पर इंटरव्यू चल रहे हैं। स्थाई प्रबंध निदेशक मिलने के बाद दीपक रावत यूपीसीएल और पिटकुल के प्रबंध निदेशक का पद छोड़ सकते हैं। कुछ दिन पहले दीपक रावत ने बिल वसूली हेतु नई योजना शुरू की थी। दिसंबर तक बिल का भुगतान करने पर ग्राहकों से सर चार्ज नहीं लिया जाएगा। इसके अलावा बिल जमा करने में लोगों को आसानी हो इसके लिए कैंप भी लगाए जाएंगे।

विद्युत अधिनियम, 2003 के अनुसार, क्षेत्र में विद्युत व्यवस्था की एकीकृत संचालन की सुविधा के लिए निर्दिष्ट क्षेत्र (ओं) के लिए केन्द्र सरकार द्वारा क्षेत्रीय विद्युत समितियां (RPCs) गठित किया गया है। क्षेत्रीय विद्युत समिति (RPC) का सचिवालय की अध्यक्षता सदस्य सचिव, जो केन्द्रीय विद्युत प्राधिकरण (सीईए) द्वारा, RPC सचिवालय के लिए अन्य स्टाफ के साथ नियुक्त किया जाता है, की जाती है।विद्युत अधिनियम, 2003 की धारा 29 (4) के तहत, इस क्षेत्र में क्षेत्रीय विद्युत समिति समय समय पर, एकीकृत ग्रिड के स्थिरता और सुचारु संचालन की कार्यकुशलता और अर्थव्यवस्था संबंधित मामलों को निश्चित कर सकती है।

Join-WhatsApp-Group
Ad
Ad
Ad
To Top