Ad
Sports News

जय हो, भारत ने इंग्लैंड को 157 रनों से हराया, एक जीत ने तोड़े सालों पुराने कई रिकॉर्ड

जय हो, भारत ने इंग्लैंड को 157 रनों से हराया, एक जीत ने तोड़े सालों पुराने कई रिकॉर्ड
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

नई दिल्ली: इंग्लैंड की सरजमीं पर उन्हीं के खिलाफ भारत ने एक बार फिर इतिहास रच दिया है। लॉर्ड्स के बाद अब ओवल भी भारत ने अपने नाम कर लिया है। टीम इंडिया ने इंग्लैंड को 5 मैचों की टेस्ट सीरीज के चौथे मुकाबले में 157 रनों से मात दी है। इसी के साथ टेस्ट सीरीज में अब भारत के पास 2-1 की बढ़त हो गई है।

गौरतलब है कि भारत ने 50 साल बाद इस ग्राउंड पर टेस्ट मैच जीता है। इसके अलावा खास ये भी है कि अब भारत ये सीरीज हार नहीं सकता। बता दें कि 35 साल बाद भारत ने इंग्लैंड में इंग्लैंड के खिलाफ एक टेस्ट सीरीज के दो मैच जीते हैं। लाजमी है कि टीम के प्रदर्शन को देखते हुए इस बार सीरीज जीत होना भी संभव माना जा रहा है। खैर, आपके बीच पारी दर पारी मैच का लेखा जोखा लेकर आए हैं। जो ये रहा…

पहली पारी (भारत 191/10)

लंदन के ओवल मैदान पर खेले जा रहे मैच में भारत को पहले बल्लेबाजी करने को कहा गया। बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत तो अच्छी रही मगर एक विकेट होने के बाद विकेटों की झड़ी लग गई। विराट कोहली के 50 के बलबूते भारत की टीम 100 रनों के आंकड़े के पार पहुंची मगर टीम एक वक्त पर 127 रनों पर सात विकेट के साथ जूझ रही थी।

यह भी पढ़ें 👉  आगरा की दीप्ति शर्मा पर नजर बनाए रखिए, ये लड़की भारतीय महिला क्रिकेट का हीरा है

तभी शार्दुल ठाकुर ने काउंटर अटैक करना शुरू किया। बता दें कि शार्दुल ने महज 31 गंदों पर 50 रन बनाकर वीरेंद्र सहवाग का रिकॉर्ड तोड़ा। अब शार्दुल टेस्ट में भारत की तरफ से सबसे तेज फिफ्टी जमाने के मामले में दूसरे नंबर पर आ गए हैं। शार्दुल की 36 गेंदों में 57 रनों की पारी की बदौलत भारत 191 के स्कोर तक पहुंचा। इंग्लैंड की तरफ से वोक्स ने चार तो रॉबिन्सन ने तीन विकेट झटके।

पहली पारी (इंग्लैंड 290/10)

इंग्लैंड की तरफ से शुरुआत अच्छी नहीं हुई। बुमराह ने दोनों की सलामी बल्लेबाजों को एक के बाद एक जल्दी ही पवेलियन का रास्ता दिखाया। रूट को उमेश ने चलता किया तो भारत ने राहत की सांस ली। मगर सीरीज का पहला मुकाबला खेल रहे ओली पोप (81) और वोक्स (50) ने अपनी पारियों से इंग्लैंड की लीड को 100 रनों तक पहुंचा दिया। भारत की तरफ से उमेश ने तीन विकेट तो बुमराह, जडेजा ने दो-दो विकेट लिए।

यह भी पढ़ें 👉  भारत में क्रिकेट धर्म... खिलाड़ियों और फैंस के बीच ''भावनाओं '' का पवित्र रिश्ता

दूसरी पारी (भारत 466/10)

यही वो पारी थी जहां भारत ने मैच में पकड़ बना ली। ओपनिंग साझेदारी अच्छी हुई मगर राहुल 46 रनों पर आउट हो गए। रोहित ने पुजारा के साथ 153 रनों की साझेदारी की। पुजारा के 61 रनों पर आउट होने के बाद रोहित ने शतक जमाया। 127 रनों की पारी खेल कर आउट हुए रोहित शर्मा का विदेशी धरती पर टेस्ट में ये पहला शतक था।

इसके बाद चौथे दिन सुबह दो विकेट जल्दी गिरे मगर शार्दुल (60) और ऋषभ पंत (50) की सूझूबूझ भरी पारियों से भारतीय टीम इंग्लैंड से कहीं आगे निकल आई। इसके बाद जले पर नमक छिड़कने का काम निचले क्रम ने किया। आखिरी तीन विकेट के लिए भारत ने कुल 54 रन जोड़ते हुए 466 रन बना लिए। इंग्लैंड की तरफ से इस पारी में वोक्स ने तीन और मोईन अली ने दो विकेट झटके।

यह भी पढ़ें 👉  बीसीसीआई के टूर्नामेंट में चमकी उत्तराखंड की बेटियां, विरोधी टीम को 27 रनों पर ऑल आउट कर दिया

दूसरी पारी (इंग्लैंड 210/10)

चौथे दिन का खेल खत्म होने तक 367 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लैंड की टीम अच्छी दिख रही थी। पांचवे दिन सुबह तक जब एक भी विकेट नहीं गिरा तो भारतीय दर्शकों के हाथ पांव फूलने शुरू हो गए थे। मगर शार्दुल ने रोरी बर्न्स को आउट किया तो विकेटों की झड़ी लग गई। इसके बाद इंग्लैंड मैच में वापिस आ ही नहीं सकी। बता दें कि इंग्लैंड की तरफ से हमीद ने 63 और रोरी बर्न्स ने 50 रन बनाए। वहीं भारत की तरफ से उमेश ने तीन और ठाकुर, जाडेजा व बुमराह ने दो-दो विकेट लिए जबकि एक रन आउट हुआ।

Join-WhatsApp-Group
To Top