Uttarakhand News

सैलानियों के लिए खुशखबरी, उत्तराखंड में बन रहा है थ्री लेन ग्लास ब्रिज

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

ऋषिकेश: योगनगरी ऋषिकेश में आने वाले यात्रियों के लिए सबसे अधिक आकर्षण का केंद्र 100 साल पुराना लक्ष्मण झूला पुल अभी बंद है। बताया जा रहा है कि सुरक्षा के लिहाज से इसे अब आवाजाही के लिए नहीं खोला जाएगा। मगर इसकी जगह प्रशासन का नया प्लान आपको खूब पसंद आएगा। यहां अब भारत का पहला ग्लास ब्रिज बनने जा रहा है।

प्रदेश के लोक निर्माण विभाग ने ऋषिकेश में बजरंग सेतु के निर्माण शुरू कर दिया है। बता दें कि लक्ष्मण झूला पुल के विकल्प के रूप में तैयार किया जा रहा ये सेतु वर्ष 2023 के जुलाई माह में बनकर तैयार हो जाएगा। बजरंग सेतु के दोनों ओर बनाए जा रहे टावर को केदारनाथ मंदिर की आकृति की तर्ज पर बनाया जाएगा। अधिकारियों के मुताबिक टावर की ऊंचाई करीब 27 मीटर होगी। कुल 133 मीटर लंबे और आठ मीटर चौड़ाई वाला यह पुल थ्री लेन का होगा।

खास बात ये है कि इस पुल के बीच में छोटे चौपहिया वाहन गुजर सकेंगे। यहां डबल लेन दुपहिया और चौपहिया वाहनों के लिए होगी। पुल के दोनों तरफ कांच का पैदल पथ बनेगा। कांच की मोटाई 65 मिमी होगी। बता दें कि 68 करोड़ रुपए ते बजट से बन रहा पुल लक्ष्मण झूला पुल की जगह लेगा, जो ब्रिटिश शासनकाल में वर्ष 1927 से 29 के बीच बनाया गया था। गौरतलब है कि जुलाई 2019 के बाद से लक्ष्मणझूला पुल पर आवाजाही बंद है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड पुलिस ने बाइक से लड़कियों को परेशान करने वाले यूट्यूबर को किया गिरफ्तार
To Top