Ad
Nainital-Haldwani News

कॉर्बेट पार्क में जल्द ही बंद होगी मारुति जिप्सी की सफारी

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

रामनगर: कॉर्बेट नेशनल पार्क में अब बहुत जल्द मारुति जिप्सी के द्वारा सफारी की सुविधा बंद हो जाएगी। बता दें कि कॉर्बेट प्रशासन मारुति जिप्सी के बदले टाटा के वाहनों को सफारी के रूप में इस्तेमाल करने पर विचार कर रहा है। आने वाले कुछ दिनों में टाटा के वाहनों का ट्रायल भी कॉर्बेट पार्क में किया जाएगा।

अधिकारियों की मानें तो मारुति जिप्सी को कंपनी द्वारा डिस्कंटीन्यू किए जाने के बाद नए वाहन प्रशासन को नहीं मिल पा रहे हैं। इसीलिए अन्य कंपनियों के वाहनों की ओर रुख किया जा रहा है। बता दें कि वाहन के ट्रायल के बाद पहले चरण में उसे महिला चालकों को खरीदवाया जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  शेमफोर्ड स्कूल ने बच्चों को दिया मानवता का मंत्र, जिले में सबसे पहले TB के 5 मरीजों को लिया गोद

उल्लेखनीय है कि कॉर्बेट पार्क में सफारी के लिए 6 सीटर वाहन अधिकृत हैं और पिछले कई सालों से मारुति जिप्सी द्वारा ही पर्यटकों को सफारी की सुविधा उपलब्ध कराई जाती है। विभाग ने बीते समय में थार कंपनी और फोर्स क्रूजर के दो वाहनों का ट्रायल भी किया था। मगर महिला जिप्सी चालकों ने उसे नापसंद कर दिया। जिसके बाद कॉर्बेट प्रशासन ने टाटा कंपनी का रुख किया।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड लोक सेवा आयोग ने जारी किया एग्जाम कैलेंडर लेकिन इन परीक्षाओं के लिए करना होगा इंतजार

निदेशक धीरज पांडे ने टाटा कंपनी के अधिकारियों के साथ इस बारे में चर्चा भी कर ली है। माना जा रहा है कि अगले हफ्ते तक टाटा के एक दो वाहनों का कॉर्बेट में ट्रायल सुनिश्चित किया जाएगा। सहमति के बाद महिला चालकों को यह वाहन दिए जाएंगे। बता दें कि इस संबंध में डीएम नैनीताल धीरज गर्ब्याल को वीर चंद्र गढ़वाली योजना से नए वाहनों के लिए ऋण दिलाने की भी मांग की गई है।

Join-WhatsApp-Group
To Top