Rajasthan

राजस्थान: गहलोत सरकार को बचाने वाले विधायक चल रहे हैं नाराज, संकेत अच्छे नहीं हैं


Ad
Ad
Ad
Ad

नई दिल्ली:राजस्थान में विधानसभा चुनाव से पहले तमाम राजनीतिक दलों में उथल-पुथल का सिलसिला खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है. भाजपा और कांग्रेस राजस्थान में 2 सबसे बड़े दल हैं और दोनों पार्टियों के नेताओं में मतभेद है यह बार-बार सामने आ रहा है. आगे पढ़ें…

कांग्रेस विधायक और सैनिक कल्याण मंत्री राजेंद्र गुढ़ा पार्टी के आला मंत्रियों से खुश नहीं है और उन्होंने सभी के व्यवहार के प्रति शिकायत की है. बता दें कि गुढ़ा बसपा के उन 6 बागी विधायकों में से एक हैं, जिन्होंने कांग्रेस में शामिल होकर गहलोत सरकार को स्थापित करने में एक अहम भूमिका निभाई थी. इसके विधायकों की संख्या बढ़कर 106 हो गई। 2020 के राजनीतिक संकट के दौरान भी उन्होंने गहलोत सरकार का साथ दिया। विधायक का कहना है कि पार्टी में शामिल होने के दौरान जो वादे उनसे किए गए थे वह पूरा नहीं किया गया. मंत्रियों के व्यवहार की शिकायत भी उन्होंने की और कहा कि इससे हमारे आत्मविश्वास में कमी आ रही है अगले विधानसभा में हमें टिकट मिलेगा इसकी संभावना भी कम हो गई है.आगे पढ़ें…

यह भी पढ़ें 👉  राजस्थान में बदलेंगे समीकरण, कांग्रेस नेता कुलदीप बिश्नोई ने भाजपा ज्वाइन की

उन्होंने बोर्ड, गाड़ी और स्टाफ नहीं मिलने की भी नाराजगी असुरक्षा की बात भी की है. विधायक ने कहा कि हम इंतजार कर रहे हैं फैसले अगर हमारे पक्ष में नहीं होंगे तो हम कोई दूसरा रास्ता अपनाएंगे.

Join-WhatsApp-Group
To Top