Nainital-Haldwani News

मुखानी पुलिस ने नहीं मांगे साक्ष्य,सीएम पोर्टल पर कर दिया साक्ष्य उपलब्ध नहीं कराने का रिप्लाई


Ad
Ad
Ad
Ad

हल्द्वानी: कुछ वक्त पहले शहर में नौकरी के नाम पर ठगी का मामला सामने आया था। जिस व्यक्ति पर युवकों ने ठगी का आरोप लगाया उसका पक्ष जानने के लिए पत्रकार संजय पाठक ने कॉल किया तो वह उनके साथ गालीगलौज और धमकी देने लगा। इसके बाद 26 अक्टूबर को पत्रकार ने हल्द्वानी कोतवाली में तैनात तत्कालीन प्रभारी निरीक्षक अरुण सैनी को तहरीर सौंपी थी।

पुलिस द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई तो छह नवंबर को शिकायकर्ता की ओर से मुख्यमंत्री पोर्टल में शिकायत दर्ज कराई गई थी। वहीं पत्रकारों के प्रतिनिधिमंडल ने डीआईजी डॉ. नीलेश आनंद भरणे से भी कार्रवाई की मांग की थी।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी में विजिलेंस टीम ने रजिस्ट्रार कानूनगो को घूस लेते पकड़ा

पत्रकार द्वारा मुख्यमंत्री पोर्टल पर जो शिकायत दर्ज कराई गई थी उसके जवाब में मुखानी पुलिस ने शिकायतकर्ता की ओर से रितेश पांडे पर जो गालीगलौज का आरोप लगाया उस संबंध में साक्ष्य उपलब्ध न कराने की बात कही है जबकि संजय पाठक का कहना है कि पुलिस ने आजतक उनसे कोई सबूत नहीं मांगे हैं।

यह भी पढ़ें 👉  एक्ट्रेस नीना गुप्ता ने वेब सीरीज़ में पहना पहाड़ का गुलबंद और पौजी,फोटो हो गई वायरल

वहीं सीएम पोर्टल पर शिकायत की स्थिति देखने पर पुलिस ने बताया है कि संजय पाठक ने साक्ष्य नहीं दिए हैं। रितेश पांडे ने कहा है कि ये मामला ठगी का नहीं बल्कि शराब ( डजर्ट किंग) का है। जो रुपए लिए गए हैं वह वापस करने की बात कही है।

पीडित नवीन जोशी का कहना है कि पुलिस ने अभी तक रिपोर्ट नहीं लिखी है लेकिन शिकायत पत्र अपने पास रखा है। वह कई बार मुखानी थाने जा चुके हैं। उन्होंने कहा कि जो रुपए उन्होंने नौकरी के लिए दिए थे वो बैंक और दूसरे लोन के थे और अब वह गाड़ी चलाकर लोन चुका रहे हैं और अपना घर चला रहे हैं। इस पूरे प्रकरण ने उन्हें मानसिक रूप में आह्त किया है।

यह भी पढ़ें 👉  अभी-अभी, नैनीताल जिले में हुई रिकॉर्ड बारिश और 10 मार्ग हुए बंद

Join-WhatsApp-Group
To Top