Nainital-Haldwani News

नैनीताल: कोरोना के दौर ने चिड़ियाघर के जानवरों को दिया जंगल वाला बेहतर जीवन


Photo – TripAdvisor

नैनीताल: कोरोना काल में बहुत लोगों की जानें जा रही हैं। इस दौर के बुरे प्रभाव किसी से छिपे नहीं हैं। लिहाजा चिड़ियाघर के जानवरों के लिए इस दौर में कुछ सकारात्मकता ज़रूर दिखी है। लोगों के प्रवेश बंद होने के बाद नैनीताल चिड़ियाघर के जानवरों के व्यवहार में खासे बदलाव देखे गए हैं। इसे भीड़ से दूर रहने का ही कारण माना जा रहा है।

दरअसल कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए नैनीताल चिड़ियाघर को एक मई से पर्यटकों के लिए बंद कर दिया गया था। हालांकि इससे चिढ़ियाघर की आय ज़रूर ठप हुई मगर वन्य जीवों के लिए यह वक्त चांदी हो गया। जानवरों को अपने मन मुताबिक बिल्कुल जंगल की तरह की शांत जीवन जीने का मौका मिल गया। खासकर बाघ, लैपर्ड व हिमालयन भालू इन दिनों अच्छे मूड में नज़र आ रहे हैं।

नैनीताल के चिड़ियाघर में इस समय तीन बंगाल टाइगर, सात लैपर्ड, चार हिमालयन भालू हैं। अब पर्यटकों की भीड़ आती थी तो इन्हें काफी पेरशानी होती थी। परेशानी इस तरह की भीड़ में आए लोग कभी आवाज़ लगाकर बुलाते थे तो कभी फोटो निकालते थे। जिससे गुस्से में आकर बाघ घूरता और दहाड़ता था। साथ ही हमेशा शांत रहने वाला भालू भी चिढ़कर गुफा में छिप जाता था।

अब चूंकि पर्यटक नहीं आ रहे हैं तो ये जीव आराम से जीवन जी रहे हैं। डिप्टी रेंजर दीपक तिवारी ने बताया कि बाघ व लेपर्ड के व्यवहार बदले से दिख रहे हैं। वे शांत होने के साथ साथ अब चिढ़चिढ़े नहीं दिख रहे। घूमना फिरना और आराम से धूप सेंकने के बाद जीव खाना पीना बेहतर ढंग से खा रहे हैं। हिमालयन भालू की कलाबाजी शुरू हो गई हैं। वह अब अपना प्राकृतिक जीवन जी रहे हैं।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में 10वीं पास युवाओं की भी लगेगी पोस्ट ऑफिस में नौकरी, तुरंत करें आवेदन

इस बदले हुए व्यवहार से वाकई सब हारत में हैं। वहीं क्षेत्राधिकारी अजय रावत के अनुसार बाघ, भालू के साथ अन्य जानवरों के व्यवहार में खासी तब्दीली दिख रही है। वह शांत हैं और जंगल सा जी रहे हैं। देखा जाए तो कोरोना काल के नकारात्मक प्रभाव को छोड़ कर चिड़ियाघर के जानवरों को लिए कुछ सकारात्मकता तो ज़रूर नज़र आई है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में येलो अलर्ट जारी, नैनीताल समेत 5 जिलों में भारी बारिश की संभावना

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में करीब डेढ़ लाख लोगों ने कोरोना वायरस को हराया,अपने जिले का जानें हाल

यह भी पढ़ें: निवेश एक बार, आमदनी बार बार, बिष्ट उद्योग दे रहा है घर पर व्यवसाय शुरू करने का शानदार मौका

यह भी पढ़ें: फौरन निपटा लीजिए बैंक से जुड़े काम, मई में इतने दिन बंद रहेंगे बैंक

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी:डीएम को मिली शिकायत,राशन की दुकान पर अनिवार्य हुए ये नियम

यह भी पढ़ें: नैनीताल: महामारी से लड़ने के लिए युवा संभालेंगे मोर्चा, वेबसाइट पर करें पंजीकरण

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: मास्क के साथ भी इस्तेमाल कर सकेंगे ऑक्सीजन पंप,10वीं के आदेश डबराल ने किया आविष्कार

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top