National News

रेलवे कर्मचारी को महंगा पड़ा KBC में जाना,विभाग के आदेश से होगा लाखों का नुकसान



नई दिल्ली: केबीसी की हॉट सीट पर बैठने का सामना लाखों लोग देखते हुए। केबीसी का हिस्सा बनने के लिए सैकड़ों लोग वर्षों से प्रयास कर रहे हैं लेकिन ये सपना कुछ ही लोगों का पूरा हो पता है। इस मंच ना जाने कितने लोगों को आर्थिक संकट से उभारा है। शो ‘कौन बनेगा करोड़पति’ शो का 13वां सीजन शुरू हो गया है। महानायक अमिताभ बच्चन अपने ही अंदाज में शो होस्ट कर रहे हैं। लोगों के सपनों को पूरा करने वाला शो अब रेलवे के एक कर्मचारी के लिए मुसीबत बन गया है। रेलवे ने उनके इंक्रीमेंट को तीन साल के लिए रोक दिया है। इससे उन्हें करीब डेढ़ लाख रुपए का नुकसान होगा।

Ad

जानकारी के अनुसार रेल कर्मचारी देशबंधु पांडे केबीसी का हिस्सा बनें। वह कोटा डिवीजन के रेल कर्मचारी हैं। देशबंधु पांडे 9 से 13 अगस्त तक मुंबई में थे। उन्होंने ऑफिस में छुट्टी के लिए आवेदन किया था जिसे स्वीकार नहीं किया गया। इसके बाद भी वो मुंबई शो में हिस्सा लेने चले गए और 3 लाख 20 हजार रुपये ही जीत सके। कोटा रेल मंडल के स्थानीय खरीद अनुभाग के कार्यालय अधीक्षक देशबंधु पांडे को रेलवे ने चार्चशीट थमा दी है। 3 साल के इंक्रीमेंट पर रोक लगाने के आदेश जारी किए गए हैं। केबीसी में रकम जीतने के बाद उनके परिवार खुशी का माहौल था जो अब मायूसी में बदल गया है।

वहीं रेलवे प्रशासन की कार्रवाई का कर्मचारी संगठन विरोध कर रहा है। वेस्ट सेंट्रल रेलवे मजदूर संघ के मंडल सचिव अब्दुल खालिद का कहना है कि देशबंधु पांडे के साथ गलत किया जा रहा है। मजदूर संगठन ने मांग की है कि वेतन वृद्धि न रोकी जाए।  कहा जा रहा है कि तीन साल में करीब डेढ़ लाख का घाटा देशबंधु को होगा ही। केबीसी में देशबंधु पांडे को 3 लाख 20 हजार मिले हैं, जिसमें से टैक्स भी काट कर राशि मिलेगी।

To Top