National News

कौन हैं ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह,जो हेलिकॉप्टर हादसे में अकेले बचे,पूरा देश मांग रहा है जिंदगी के लिए दुआ


Ad
Ad

नई दिल्ली:तमिलनाडु में कुन्नूर में हुए हेलिकॉप्टर हादसे ने पूरे देश में शोक की लहर दौड़ा दी है। चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी मधुलिका रावत और 11 अन्य लोगों की इस हादसे में मौत हो गई है। सीडीएस रावत बुधवार को स्टाफ कोर्स के फैकल्टी और स्टूडेंट्स को संबोधित करने के लिए वेलिंगटन (नीलगिरी हिल्स) स्थित डीएसएससी के दौरे पर थे।

Ad
Ad

इसी बीच, दोपहर वायुसेना का Mi17 V5 हेलिकॉप्टर तमिलनाडु के कुन्नूर के पास हादसे का शिकार हो गया, जिसमें सीडीएस और 9 अन्य यात्रियों को ले जा रहे 4 सदस्यों का दल शामिल था। हादसे में ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह इकलौते सर्वाइवर रहे हैं, जिन्हें घायल अवस्था में वेलिंगटन के मिलिट्री हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। पूरा देश कैप्टन वरुण की सलामती की दुआ मांग रहा है। भारतीय वायुसेना ने बताया कि सैन्य हेलिकॉप्टर दुर्घटना में घायल हुए भारतीय वायु सेना के ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह वेलिंगटन (नीलगिरी हिल्स) स्थित डिफेंस सर्विस स्टाफ कॉलेज में डायरेक्टिंग स्टाफ हैं।

जानकारी के मुताबिक कैप्टन वरूण ने साल 2020 में एक हवाई इमरजेंसी के दौरान अपने LCA तेजस लड़ाकू विमान को बचाया था और इसके लिए उन्हें साल 2021 स्वतंत्रता दिवस पर शौर्य चक्र से सम्मानित किया। वरुण सिंह उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले की रुद्रपुर तहसील के खोरमा कन्हौली गांव के रहने वाले हैं। उनका पूरा परिवार तमिलनाडु में रहता है। कांग्रेस नेता और प्रवक्ता अखिलेश प्रताप सिंह उनके रिश्तेदार हैं।

 

Join-WhatsApp-Group
Ad
Ad
Ad
To Top