Bageshwar News

बागेश्वर के नीरज तिवारी बने भारतीय वायु सेना में फ्लाइंग ऑफिसर, आप भी दीजिए बधाई

Bageshwar: Neeraj Tiwari: उत्तराखंड के युवाओं का कौशल हमेशा देश और देश की रक्षा के काम आया है। जहाँ एक तरफ उत्तराखंड भारतीय थल सेना को सबसे ज़्यादा अधिकारी देने में सर्वोच्च भूमिका निभाता है। वहीं वायु सेना और जल सेना के प्रति भी उत्तराखंड के युवाओं की जागरूकता दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। उत्तराखंड के लिए अपने कठोर परिश्रम से सफलता प्राप्त करने वाले बागेश्वर के नीरज तिवारी इसी देशभक्ति का उदाहरण बने हैं।

नीरज ने आठवीं तक कंट्रीवाइड पब्लिक स्कूल कठायतबाड़ा से शिक्षा प्राप्त की, इसके बाद 12 वीं तक की पढ़ाई जनरल बीसी जोशी आर्मी पब्लिक स्कूल पिथौरागढ़ से पूरी की। नीरज की स्नातक की पढ़ाई बीएससीएजी पंतनगर से पूर्ण हुई।

फ्लाइंग ऑफिसर नीरज तिवारी के परिवार की पृष्ठभूमि पर नज़र डालें तो नीरज के पिता सेना के सम्मानित कैप्टन पद से सेवानिवृत्त हैं तथा माता गीता तिवारी गृहणी हैं। सहायक जिला सैनिक कल्याण अधिकारी रमेश चंद्र तिवारी के पुत्र नीरज तिवारी ने 17 दिसंबर को एयरफोर्स अकादमी हैदराबाद से कमीशन प्राप्त किया।

अपने पुत्र नीरज द्वारा पहले ही प्रयास में जुलाई 2022 में फ्लाइंग ऑफिसर की परीक्षा उत्तीर्ण करने पर पिता को बहुत गर्व है। जिस गर्व को वह शब्दों से जितना बयाँ कर सकते थे उन्होंने किया 16 महीने के कठिन प्रशिक्षण को अनुशासित दिनचर्या और एकाग्रता से पूरा कर पासिंग आउट में नीरज ने वायु सेना में पायलट का नवदायित्व ग्रहण किया। देश की सेवा में पिता के बाद पुत्र के भी आ जाने से पूरे परिवार की ख़ुशी का कोई ठिकाना नहीं है। हर तरफ से शुभकामनाओं और उज्जवल भविष्य की प्रार्थनाओं से नीरज का घर और मन प्रकाशित है। जिसके लिए नीरज व उनके माता-पिता ने सभी का हार्दिक धन्यवाद किया।

To Top
Ad