Uttarakhand News

बागेश्वर निवासी मदन राम आर्य बने यूपीसीएल निदेशक

Uttarakhand News Update: शासन ने दो ऊर्जा निगमों में दो अधिकारियों को निदेशक पद का उपहार भेंट किया है। आपको बता दें कि यूजेवीएनएल और यूपीसीएल में खाली निदेशक परिचालन पदों पर नियुक्ति के निर्देश दे दिए गए हैं।

मिल रही जानकारी अनुसार मदन राम आर्य को यूपीसीएल में निदेशक पद का दायित्व सौंपा गया है। नव दायित्व के साथ वे वर्त्तमान में कार्यरत मुख्य अभियंता गढ़वाल के दायित्व का भी संभालेंगे। सचिव ऊर्जा आर मीनाक्षी सुंदरम द्वारा दिए गए आदेश के अनुसार मदन राम आर्य इस पद पर अगले अधिकारी की नियुक्ति होने तक इस पद पर कार्यरत रहेंगे।

आपको बता दें कि मदन राम आर्य मूल रूप से बागेश्वर के मूसली कांडा गांव के निवासी हैं। जिन्होंने अपनी प्राथमिक शिक्षा प्राइमरी पाठशाला घिगारीटोला से पूरी करने के बाद, 12वीं कि पढ़ाई GIC कांडा से पूरी की। जिसके बाद उन्होंने पंतनगर विवि से B.Tech. किया। उनकी पहली ज्वाइनिंग जोशीमठ में हुई। जिसके बाद वे विभिन्न शहरों में अनेक पदों पर अपनी सेवाएं दे चुके हैं। यूपीसीएल के नए गढ़वाल चीफ आर्य ने मंगलवार को ही निदेशक के रूप में कार्यभार ग्रहण कर लिया है।

पूर्व में इस पद पर कार्यरत रहे एमएल प्रसाद के सेवानिवृत्त एवं सेवा विस्तार की अवधि पूरी होने के बाद से ही इस पद पर कोई नियुक्ति नहीं हुई थी। जिसके बाद अब मदन राम आर्य अब इस पद पर अपनी सेवाएं देंगे। इस अवसर पर यूपीसीएल के एमडी अनिल कुमार व अन्य अधिकारियों ने उन्हें बधाई दी है।

इसके अलावा उत्तराखंड जल विद्युत निगम लिमिटेड के निदेशक पद के लिए सचिव ऊर्जा आर मीनाक्षी सुंदरम ने अजय कुमार सिंह का चयन कर उन्हें इस नव दायित्व की ज़िम्मेदारी भी सौंप दी है। आपको बता दें कि अजय कुमार सिंह यूजेवीएन लिमिटेड के भागीरथी वैली परियोजनाओं में महाप्रबंधक के रूप में कार्यरत रह चुके हैं।

अजय ने वर्ष 2005 में यूजेवीएन लिमिटेड में बतौर अधिशासी अभियंता शुरुआत की थी। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अजय को जल-विद्युत क्षेत्र में 27 वर्षों का अनुभव प्राप्त है। अपने सफल कार्यकाल में अजय ने नाथपा-झाकड़ी, कोल डैम, लारजी, मनेरी-भाली द्वितीय और व्यासी आदि जल विद्युत परियोजनाओं में विभिन्न स्तरों पर कार्य किया है। यूजेवीएनएल के एमडी संदीप सिंघल व अन्य अधिकारियों ने भी उन्हें नव नियुक्ति पर बधाई दी है।

To Top
Ad