Breaking News

एक अच्छा फैसला, अयोध्या जाने वाली बसों के चालक-परिचालक नहीं करेंगे धूम्रपान

No Smoking on 22 January: Public Vehicle Drivers & Conductors got Strict Orders: बरेली से अयोध्या के लिए सीधी बस सेवा के सभी चालक और परिचालक को प्रशासन कि तरफ से धूम्रपान ना करने के सख्त आदेश दिए गए हैं। आपको बता दें कि 22 जनवरी को अयोध्या राम मंदिर में राम लला की प्राण प्रतिष्ठा होनी है, जिसके लिए पूरे देश के भक्त अयोध्या पहुंचेंगे। बरेली से अयोध्या के लिए सीधी बस सेवा में उन्हीं चालक-परिचालकों की ड्यूटी लगाई जाएगी जो धूम्रपान या मदिरापान न करते हों। अगर कोई चालक-परिचालक ऐसा करते पकड़ा गया तो उसकी सेवा समाप्त की जाएगी। 

500 वर्ष बाद भगवान राम के स्वागत के लिए हर भक्त उत्साहित तो है ही साथ ही हर नकारात्मक ऊर्जा का त्याग कर साफ मन से प्रभु का स्वागत करने की प्रतीक्षा भी कर रहा है। अभी कुछ ही दिनों पहले उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्राण प्रतिष्ठा वाले दिन उत्तरप्रदेश की सभी शराब की दुकाने बंद करने का आदेश दिया था। जिसे पूरी सख्ती के साथ लागू किया जाएगा। अन्य राज्यों से आने वाले लोग भी उस दिन मदिरापान नहीं कर सकेंगे। जैसा की आप सभी जानते हैं भारत में सार्वजनिक स्थानों में धूम्रपान करना दंडनीय अपराध है। जिसके चलते सार्वजनिक परिवहन और निजी वाहन चालकों को उस दिन धूम्रपान ना करने के सीधे आदेश मिले हैं।

बरेली से अयोध्या जाने वाली बसों की संख्या बढ़ाई गई है। बरेली से अयोध्या के लिए 12 बसें आरक्षित की गई हैं। सभी बसों में भगवान राम के भजनों के लिए म्यूजिक सिस्टम भी लगाए गए हैं और इन सभी बसों को पूरी फिटनेस होने के बाद ही अयोध्या के लिए रवाना किया जाएगा।

To Top
Ad