Uttarakhand News

उत्तराखंड में मौसम विभाग ने बारिश को लेकर जारी किया ऑरेंज अलर्ट


Uttarakhand weather update:- उत्तराखंड में बदलते मौसम के चलते कई क्षेत्रों में बीते रविवार बादल छाए रहे। प्रदेश की राजधानी दून समेत कई इलाकों में हल्की बूंदाबादी भी देखने को मिली। सुबह से शाम तक छाए बादलों और बूंदाबादी के कारण प्रदेश के कई इलाकों में तापमान 5 डिग्री नीचे लुढ़क गया, जिससे लोगों को गर्मी से थोड़ी राहत मिली।

मौसम विभाग के मुताबिक शनिवार को दून में अधिकतम तापमान 35, पंतनगर में 36, मुक्तेश्वर में 22 और नई टिहरी में 24 डिग्री दर्ज किया गया था। जबकि रविवार को तापमान क्रमश 30.3, 31.2, 20.4 और 21.1 डिग्री बना रहा। मौसम निदेशक डॉ. बिक्रम सिंह ने बताया कि बादलों और बूंदाबांदी की वजह से तापमान में गिरावट दर्ज की गई है। बता दें कि प्रदेश में सोमवार को भी इसी तरह का मौसम देखने को मिल रहा है, जिसके चलते तापमान 29 डिग्री तक पहुंच सकता है।

आज बारिश आंधी का ऑरेंज अलर्ट, कल से होगा साफ मौसम

मौसम निदेशक डॉ. बिक्रम सिंह ने बताया कि नैनीताल, चम्पावत और उधम सिंह नगर के कुछ इलाकों में हल्की बारिश और गर्जना हो सकती है। वहीं, बाकी जिलों में हल्की से मध्यम बारिश और ओलावृष्टि समेत 40 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने की संभावना है। मौसम विभाग द्वारा इसके लिए ऑरेंज अलर्ट भी जारी कर दिया गया है।

वहीं मसूरी में रविवार को हुई बूंदाबांदी के बाद मौसम सुहावना हो गया। मौसम और वीकेंड के चलते हिल स्टेशन में बड़ी संख्या में पर्यटक पहुंचे। उत्तराखंड के तराई भाबर में बादल छाने और हवाएं चलने से लोगों को गर्मी से राहत मिली। आसमान बादलों से घिरने के साथ ही दिन भर तेज हवाओं का चलन जारी रहा। मौसम के इस बदलते मिजाज़ के कारण तापमान में करीब 3 डिग्री तक की गिरावट देखी गई। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार सोमवार को बूंदाबांदी व हल्की बौछारें पड़ सकती है।

कुमाऊं के द्वार कहे जाने वाले हल्द्वानी शहर में रविवार को सुबह से ही मौसम का मिजाज बदल गया था। कई दिनों से तप रहे तराई-भाबर में आसमान में बादल छाने से लोगों ने सुकून की सांस ली। वहीं तेज हवाएं चलने से अधिकतम तापमान 3 डिग्री लुढ़ककर 33 डिग्री पहुंच गया। मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार सोमवार को पहाड़ी जिलों में बारिश की संभावना है। इससे तापमान में और गिरावट के आसार है।

सरोवर नगरी नैनीताल में भी रविवार को मौसम का मिजाज बदला रहा। सर्दियों में बारिश ना होने के कारण झील के जलस्तर में निरंतर गिरावट दर्ज की जा रही है। रविवार को नैनी झील का जलस्तर 3.5 फीट पहुंच गया है। जीआईसी मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार अधिकतम तापमान 23° व न्यूनतम 12° डिग्री सेल्सियस रहा। मौसम विभाग ने जिले में बारिश का पूर्वानुमान जताया है।वहीं दूसरी तरफ चकराता क्षेत्र में मौसम के मिजाज में बदलाव का सिलसिला लगातार जारी है। एक दिन धूप निकलने के बाद दूसरे दिन मौसम खराब हो रहा है। इससे चकराता का मौसम अप्रैल के मध्य में भी ठंडा बना हुआ है। रविवार को चकराता का न्यूनतम तापमान 12 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।

To Top