Uttarakhand News

नैनीताल मर्डर केस: पुलिस ने इमरान को उत्तर प्रदेश से पकड़ा,नैनीताल में होगी पूछताछ



नैनीताल: सोमवार को नैनीताल में सामने आए महिला पर्यटक की हत्या का मामला सामने आया। महिला जिस शख्स के साथ घूमने आई थी वह कार लेकर फरार हो गया। कुछ देर पहले अपडेट मिला था कि वह नोएडा भाग गया। वह उस फ्लैट में भी गया था जहां मृतक दीक्षा व उसकी बेटी के साथ आरोपी रहता है। कुछ देर पहले इस मामले से जुड़ी बड़ी खबर सामने आ रही है। पुलिस ने आरोपी ऋषभ उर्फ इमरान को उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद से पकड़ लिया है। उसे नैनीताल लाया गया है। नैनीताल पुलिस वारदात के बाद फरार हुए शख्स की दाबिश करने के लिए नोएडा उत्तर प्रदेश के लिए निकल गई थी। आरोपी महिला का मोबाइल लेकर फरार हुआ था और लोकेशन ट्रेस कर आरोपी तक पुलिस पहुंची है।

Ad

होरिजन होम्स एक्सटेंशन गौतम बुद्धनगर निवासी दीक्षा मिश्रा अपने प्रेमी ऋषभ उर्फ इमरान और अन्य दो दोस्तों के साथ 14 अगस्त को नैनीताल पहुंची थी। नैनीताल पहुंचने से पहले वह लोग रामनगर रुके थे। 15 अगस्त को दीक्षा का जन्मदिन मनाने के बाद दोनों कपल अपने कमरे में चले गए लेकिन दूसरे दिन दीक्षा का शव बरामद हुआ। उसका प्रेमी इमरान फरार हो गया।

यह भी पढ़ें 👉  गणतंत्र दिवस परेड में शामिल होंगी उत्तराखंड की झांकियां,बाबा बद्री के दर्शन करेगी पूरी दुनिया

पुलिस ने मृतका के परिजनों को घटना की जानकारी दी तो कुछ अहम जानकारी हाथ ली। देर रात कोतवाली एसआई नितिन बहुगुणा की अगुवाई में एक टीम आरोपी की धरपकड़ को लेकर नोएडा को रवाना हो गई थी। पुलिस ने उसे गाजियाबाद में पकड़ लिया है। फिलहाल इमरान दीक्षा का पति था या प्रेमी ये पूछताछ के बाद ही सामने आएगा। हालांकि महिला ने आरोपी के नाम का टैटू कराया है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: भाजपा से निवर्तमान विधायक के बेटे को टिकट मिलने पर मेयर ने दिया इस्तीफा

बता दें कि आरोपी इमरान हत्या करने के बाद ग्रेटर नोएडा आया था और वह करीब छह घंटे तक अपने फ्लैट में रुकने के बाद 16 अगस्त को दोपहर साढ़े बारह बजे अपना सारा सामान लेकर भाग गया। पुलिस को पडोसियों से यह भी पता चला है कि दोनों ने शादी कर ली थी और महिला ने शख्स की पहचान परिजनों से छिपाई थी।

यह भी पढ़ें 👉  गणतंत्र दिवस परेड में शामिल होंगी उत्तराखंड की झांकियां,बाबा बद्री के दर्शन करेगी पूरी दुनिया

ग्रेटर नोएडा की होरिजन होम्स सोसायटी में रहने वाले लोगों ने बताया कि महिला को पता था की ऋषभ का असली नाम इमरान है, हालांकि मृतका ने अपने परिजनों को यह बात नहीं बताई थी। महिला की पहली शादी वर्ष 2007 में ठेकेदार पवन कुमार से हुई थी। दोनों की 13 वर्षीय बेटी है जो मां के साथ रहती थी। पवन व महिला के बीच तलाक का मामला इटावा की कोर्ट में विचाराधीन है। महिला ने एक वर्ष पूर्व इमरान से निकाह किया था और वह सोसायटी में अपने खुद के फ्लैट में रहती थी 

To Top