Nainital-Haldwani News

दरोगा भर्ती मामले में पंतनगर यूनिवर्सिटी की भूमिका पर शक, कहां गईं OMR शीट

बेरोजगार है पंतनगर यूनिवर्सिटी के छात्र, नहीं आ रही हैं कंपनियां, सुस्ताया प्लेसमेंट सेल....
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

पंतनगर: पहले उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के स्नातक स्तरीय परीक्षा के प्रश्न पत्र लीक होने का मामला सामने आया। जिसमें गिरफ्तारियों का सिलसिला काफी लंबा चला। बीते दिनों विधानसभा सचिवालय में हुई कई नियुक्तियों को विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खंडूरी ने रद्द किया। अब 2015 दरोगा भर्ती परीक्षा को लेकर बड़ी जानकारी सामने आई है।

बता दें कि यूकेएसएसएससी के पेपर लीक मामले के बाद कई भर्ती परीक्षाएं संदेह के घेरे में आई थीं। 2015 में उत्तराखंड पुलिस में हुई दरोगा की सीधी भर्ती पर विजिलेंस की जांच के आदेश हुए तो पंतनगर विश्वविद्यालय की भूमिका भी शक के कठघरे में आकर खड़ी हो गई। बता दें कि विजिलेंस से मिली जानकारी के अनुसार विवि के स्टाफ पर भी शिकंजा कसा जा सकता है।

विजिलेंस के निदेशक अमित सिन्हा ने बताया कि जांच में जानकारी मिली है कि विश्वविद्यालय की ओर से कुछ ओएमआर शीट नष्ट की गई हैं। हालांकि, विजिलेंस के पास दरोगा भर्ती की ओएमआर शीट की फोटो प्रतिलिपि सुरक्षित है। मगर 2015 से पहले हुई भर्तियों की ओएमआर शीट विवि में सुरक्षित होना और दरोगा भर्ती परीक्षा की शीट नहीं होना, बड़ा सवाल बन गया है।

यह भी पढ़ें 👉  पटवारी पेपर लीक मामले में SIT को फिर मिली बढ़त, उत्तर प्रदेश और दिल्ली का लिंक मिला
To Top