Ad
Nainital-Haldwani News

बसों के लिए शुरू हो गया है रानीबाग पुल, यात्रियों को नहीं होगी अब परेशानी

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

हल्द्वानी: कुमाऊं की लाइफलाइन कहे जाने वाला रानीबाग पुल भारी वाहनों के लिए शुरू हो गया है। लगातार हो रहे भूस्खलन और पुल पर आई दरारों की वजह से उसे भारी वाहनों के लिए कर दिया गया था। पुल में आवाजाही शुरू करने को लेकर डीएम धीराज गर्ब्याल ने आदेश जारी कर दिया है। दो महीने के बाद पुल को भारी वाहनों के लिए शुरू किया गया है। पुल से फिलहाल भारी वाहनों में केवल रोडवेज और केमू की बसों की आवाजाही होगी। जल्द ही अन्य भार वाहनों की भी आवाजाही शुरू कर दी जाएगी।

बता दें कि हल्द्वानी-भीमताल मार्ग रानीबाग पुल जुलाई माह में बंद हो गया था। पुल से केवल हल्के वाहनों को गुजरने की अनुमति प्रशासन ने दी थी। यह पुल पहाड़ जाने के लिहाज से बेहद अहम माना जाता है। पुल के बंद होने से बसों को ज्योलीकोट होते हुए जाना पड़ रहा था और यात्रियों को एक घंटा अतिरिक्त सफर तय करना पड़ रहा था। पुल को शुरू करने से पहले लोक निर्माण विभाग द्वारा ट्रायल लिया गया था और इसके बाद रिपोर्ट डीएम को पेश की गई थी।

यह भी पढ़ें 👉  दशहरे के जश्न के बीच हल्दूचौड़ में हादसा, भाई-बहन की हुई मौत

लोनिवि ने अपने वाहनों का ट्रायल लेकर भारी वाहनों के लिए भी मार्ग सुचारू कर दिया है। शनिवार से ही रोडवेज और केमू की बसों का संचालन किया गया। बताया जा रहा है अन्य भारी वाहनों को 15 सिंतबर से एंट्री मिलने लगेगी। उत्तराखंड में बारिश के चलते हुए भूस्खलन के बाद कई मार्गों को बंद करना पड़ा था। अभी भी कई मार्ग बंद हैं। उस लिस्ट में रानीबाग पुल भी शामिल था।

Join-WhatsApp-Group
To Top