Pithoragarh News

देवभूमि को गर्व है, ITBP जवान रतन सिंह ने दुनिया की 8वीं सबसे ऊंची चोटी पर फहराया तिरंगा


देवभूमि को गर्व है, ITBP जवान रतन सिंह ने दुनिया की 8वीं सबसे ऊंची चोटी पर फहराया तिरंगा

पिथौरागढ़: प्रदेशवासी ना केवल सेना में जाकर देश सेवा करते हैं बल्कि कई अन्य तरह से भी देवभूमि का मान बढ़ाने में जुटे रहते हैं। अब देखिए ना, सोन निवासी रतन सिंह सोनाल पहले तो आईटीबीपी में कमांडेंट के तौर पर तैनात हैं। दूसरा उन्होंने सफल पर्वतारोहण करने में भी महारथ हासिल की हुई है। रतन सिंह ने दुनिया की आठवीं सबसे ऊंची चोटी पर तिरंगा फहराया है।

पिथौरागढ़ जिले के दारमा घाटी के सोन क्षेत्र के रहने वाले रतन सिंह सोनाल ने बीते शनिवार को देशभर में प्रदेश और जिले का नाम रौशन किया है। दरअसल रतन सिंह ने नेपाल के गोरखा अंचल के मनासलू पर्वत (8163 मीटर) का आरोहण कर तिरंगा और आईटीबीपी का झंडा फहराया है। जिससे पूरे इलाके में खुशी का वातावरण है।

यह भी पढ़ें 👉  अंडर-19 में किया कमाल, अब चैलेंजर ट्रॉफी में रामनगर की नीलम करेगी कप्तानी

कमांडेंट रतन सिंह सोनाल ने बताया कि उन्होंने अपने साथी आईटीबीपी के उपसेनानी अनूप नेगी के साथ शनिवार की सुबह साढ़े सात बजे इस उपलब्धि को हासिल किया। उन्होंने बताया कि सात सितंबर को आईटीबीपी के दो पर्वतारोही और देश के अन्य पर्वतारोहियों द्वारा शुरू किए गए इस अभियान में 25 सितंबर को सफलता पाई है। इस दौरान अन्य देश के छह पर्वतारोही ने भी मनासलू चोटी का आरोहण किया।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: 18 साल से कम उम्र के युवा भी एक नवंबर से बनवा सकेंगे अपना वोटर कार्ड

पर्वतारोही रतन सिंह सोनाल पहली बार ये कारनामा नहीं कर रहे थे। बता दें कि इससे पहले भी वह तीन बार आठ हजार मीटर से अधिक ऊंची चोटी का सफल आरोहण कर चुके हैं। खास बात .ये है कि इससे पहले रतन सिंह सोनाल ने सोनाल माउंट एवरेस्ट, संतोपथ, मुकुट, ससेरकंगरी, प्लेटो और नन्दादेवी ईस्ट आदि शिखर का सफल आरोहण किया है।

यह भी पढ़ें 👉  यात्रियों की टेंशन खत्म, हल्द्वानी से नैनीताल के लिए रोडवेज बस सेवा शुरू

हर तरफ से उन्हें इस सफलता पर बधाई संदेश मिल रहे हैं। आईटीबीपी और सीमान्त के लोगों में खुशी की लहर है। माउंट एवरेस्ट विजेता योगेश गर्ब्‍याल और शीतल ने भी रतन सिंह को बधाई दी है। गौरतलब है कि 23 मई को दुनिया की चौथी सबसे ऊंची चोटी ल्होत्से पर्वत 8516 मीटर पर तिरंगा फहराकर लौटने वाली केंद्रीय शस्त्र पुलिस फोर्स की तीन सदस्यों की टीम का नेतृत्व भी रतन सिंह सोनाल ने किया था।

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad - Vendy Sr. Sec. School

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top