Sports News

देवभूमि में गरजा सचिन तेंदुलकर का बल्ला, हल्द्वानी के फैंस ने सुनाई आंखों देखी…

Ad
Ad
Ad
Ad

देहरादून: यह पहला मौका था जब क्रिकेट के भगवान ने देवभूमि में आकर बल्ला पकड़ा। बीते गुरुवार को राजीव गांधी अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में जो हुआ, वो उत्तराखंड को हमेशा याद रहेगा। रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज में भारतीय लेजेंड्स टीम के कप्तान सचिन तेंदुलकर को देखना हजारों दर्शकों के लिए किसी सपने से कम नहीं था। सचिन ने टीम इंडिया की तरफ से तूफानी पारी खेलकर माहौल बना दिया। दूर दूर से दर्शक मैच देखने के लिए पहुंचे थे। पूरे मैदान में सचिन सचिन का शोर था।

बारिश के कारण देर से शुरू हुआ मैच

बता दें कि गुरुवार को रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज का 14वां मुकाबला इंडिया लेजेंड्स और इंग्लैंड लेजेंड्स के बीच होना था। मगर देहरादून में बारिश का मौसम जैसे क्रिकेट प्रेमियों के लिए बड़ा अवरोध बन गया था। बारिश के साये में खेल प्रेमी विभिन्न शहरों से देहरादून पहुंच तो रहे थे मगर मन के भीतर मुकाबले के बारिश के कारण रद्द हो जाने का डर भी था। बहरहाल, ढेर सारी दुआओं को बहुत देर के इंतजार के बाद रात आठ बजे अच्छी खबर मिली कि टॉस साढ़े आठ और मैच नौ बजे शुरू होगा। बारिश के कारण मुकाबले को 15-15 ओवर का कर दिया गया था।

टॉस जीतकर इंग्लैंड ने पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया तो दर्शकों ने सीटी बजानी शुरू कर दी। इसके बाद दोनों देशों का राष्ट्रीय गान हुआ और इस दौरान माहौल देखने लायक था। पहली गेंद फेंके जाने से पहले संदेह था कि शायद इस विकेट पर ज्यादा रन नहीं बनेंगे। मगर सचिन तेंदुलकर एक अलग ही मूड में बल्लेबाजी करने उतरे थे। उन्होंने अपनी ताबड़तोड़ शुरुआत से पूरे मैदान को खुशी के मौके दिए। सचिन के हर शॉट पर दर्शक उछल उछल कर जश्न मना रहे थे। सचिन ने 20 गेंदों पर तीन चौकों और तीन छक्कों की मदद से 40 रनों की पारी खेली।

यह भी पढ़ें 👉  मुक्तेश्वर में विराट कोहली! सोशल मीडिया की एक और फोटो से गदगद हुए फैंस

कई हीरोज को देखने को मिला मौका

सचिन के आउट होने के बाद सभी खिलाड़ियों ने बड़ा स्कोर खड़ा करने में अहम योगदान दिया। युसुफ पठान ने 11 गेंदों पर 27 जबकि युवराज सिंह ने 15 गेंदों पर नाबाद 31 रनों की पारी खेली। सुरेश रैना ने 12 रन बनाए। 171 रनों को पीछा करने उतरी इंग्लैंड की टीम मस्टर्ड के 29 और ट्रेमलेट के नाबाद 24 रनों की मदद से 15 ओवरों में केवल 130 रन ही बना सकी। इंडिया की तरफ से राजेश पवार ने सर्वाधिक तीन विकेट अपने नाम किए। 40 रन की जीत भारतीय टीम ही नहीं देहरादून और उत्तराखंड के दर्शकों के लिए भी ढेर सारी खुशियां लेकर आई।

यह भी पढ़ें 👉  धरने पर बैठे दिवंगत अंकिता भंडारी के माता-पिता, बेटी को याद किया तो छलके आंसू

क्या बोले फैंस

हल्द्वानी के भी कई क्रिकेट प्रेमी यह मुकाबला देखने के लिए देहरादून पहुंचे थे। हल्द्वानी ईको टाउन निवासी सूरज गोस्वामी ने हल्द्वानी लाइव को बताया कि मैदान पूरा खचाखच भरा हुआ था। हर गेंद पर दर्शक अपनी सीट से खड़े होकर जश्न मना रहे थे। इधर, पुरानी आइटीआइ निवासी मनीषा पंत की मानें तो उत्तराखंड के दर्शकों के लिए यह एक अलग अनुभव था। अपने हीरोज को देखना काफी रोमांचक रहा। वहीं, हल्द्वानी की ही रहने वाली श्वेता पंत ने कहा कि इस तरह के मुकाबले उत्तराखंड में और भी होने चाहिए।

यह भी पढ़ें 👉  महिला सुरक्षा के लिए हेल्प लाइन नंबर जारी... पहचान भी गुप्त रखी जाएगी

गौरतलब है कि उत्तराखंड में क्रिकेट के प्रति प्यार कोई नया नहीं है। वो बात अलग है कि राज्य में क्रिकेट स्टेडियम ना होने के कारण क्रिकेट प्रेमियों को दिल्ली, आदि जगहों का रुख करना पड़ता था। मगर अब क्रिकेट उत्तराखंड आ रहा है। टीम इंडिया के लेजेंड्स का उत्तराखंड आकर क्रिकेट खेलना बड़ी बात है। उम्मीद है कि आने वाले समय में बीसीसीआई द्वारा विभिन्न स्तर के क्रिकेट मुकाबले देहरादून व हल्द्वानी के स्टेडियम में करवाए जाएंगे। बता दें कि रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज में इंडिया को अपना अगला मैच बांग्लादेश के खिलाफ 25 सितंबर को खेलना है।

Join-WhatsApp-Group
Ad
To Top