Udham Singh Nagar News

सावित्री कॉलोनी में गंदे काम का भंडाफोड़, बांग्लादेशी युवती समेत तीन गिरफ्तार

File Photo
Ad
Ad
Ad
Ad

रुद्रपुर: देवभूमि की साफ सुथरी छवि को खराब करने की जुगत में लगे अराजक तत्वों को पुलिस व प्रशासन सबक सिखा रहा है। देह व्यापार के धंधे तो जैसे शहर शहर में आम हो गए हैं। रुद्रपुर के ट्रांजिट कैंप से एक मामला सामने आया है। जहां देह व्यापार व्हाट्सएप के माध्यम से किया जा रहा था। ऑनलाइन रूप से धंधा संचालित हो रहा था। अब पुलिस ने एक महिला समेत तीन लोगों को पकड़ा है।

एसएसपी मंजूनाथ टीसी ने मामले के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि ट्रांजिट कैंप के सावित्रि कॉलोनी में रीना देवी के मकान में एस्कॉर्ट सर्विस व मसाज सेंटर के नाम पर धंधा चल रहा था। जिसकी सूचना मिलने के बाद एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट प्रभारी बसंती आर्या के नेतृत्व में बुधवार शाम को उक्त जगह छापा मारा गया। पता चला कि वेबसाइट बनाकर मोबाइल नंबर के जरिए देह व्यापार का धंधा चल रहा था। पेटीएम, फोन पे, गूगल पे के माध्यम से पैसों का लेनदेन होता था।

टीम ने मौके पर पहुंचकर पहले एक युवक को पकड़ा जो भाग रहा थाछ उसकी पहचान नगरिआ खुर्द कला पीलीभीत और हाल सावित्री कालोनी ट्रांजिट कैंप निवासी अनिल मलिक उर्फ श्याम पुत्र सुधीर मलिक के रूप में हुई। टीम को वहीं से दो युवतियां भी मिलीं। जिनमें से एक युवती भारतीय नहीं बल्कि बांग्लादेश की निकली।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी निवासी दीक्षांशु नेगी इंग्लैंड रवाना होंगे, शानदार प्रदर्शन का मिला ईनाम

दोनों ने अपना नाम ग्राम आबलपुर थाना व जिला मांगोरा बांग्लादेश और हाल नगरिआ खुर्द कला पीलीभीत और सावित्री कालोनी निवासी साथी खातून उर्फ साथी मलिक पत्नी अनिल मलिक तथा तुगलकाबाद साउथ दिल्ली और हाल सावित्री कालोनी फुलसुंगा निवासी बिष्टी राय बताया।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड बोर्ड परीक्षा को लेकर सामने आया बड़ा अपडेट, जरूर पढ़ें

मौके से आपत्तिजनक सामान, सात मोबाइल फोन, एक बांग्लादेशी पासपोर्ट, दो भारतीय पासपोर्ट, तीन आधार कार्ड, तीन एटीएम, दो पेन कार्ड, एक पहचान पत्र, एक डीएल, एक आरसी, एक विजिटिंग कार्ड होल्डर एलबम, एक स्कूटी, एक कार व 28700 रुपए की नकदी के साथ ही बांग्लादेश के 1009 रुपये बरामद हुए। पुलिस ने बांग्लादेशी महिला समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया है।

Join-WhatsApp-Group
Ad
To Top