टिहरी:होटल के 76 कर्मचारियों को हुआ कोरोना वायरस, प्रशासन ने उठाया बड़ा कदम

देहरादून: राज्य में कोरोना संक्रमण के मामले एक बार फिर सामने आने लगे हैं। जो मामले 100 से नीचे रह रहे ते वो अब 350 का आंकड़ा भी पार कर चुके हैं। बढ़ते कोरोना वायरस के मामलों के बाद अब प्रशासन ने कंटेनमेंट जोन बनाना शुरू कर दिया है। देहरादून के दो इलाकों को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है और वहां पर लॉकडाउन लगाया गया है। नगर निगम क्षेत्र में मकान नंबर-144 नेहरु काॅलोनी और ऋषिकेश नगर निगम क्षेत्र में ग्राम गुमानीवाला की गली नम्बर-8 को कन्टेमेंट जोन घोषित कर इन क्षेत्रों में पूर्णतः लाॅकडाउन लगा दिया है। सोमवार को उत्तराखंड में 109 कोरोना वायरस के मामले सामने आए हैं।

वहीं एक खबर टिहरी से सामने आ रही है। उत्तराखंड में ऋषिकेश-बदरीनाथ नेशनल हाईवे पर स्थित ताज होटल में कोरोना वायरस के 76 केस सामने आए हैं। एक साथ इतने मामले सामने आने के बाद जिला प्रशासन ने होटल को तीन दिन के लिए बंद कर दिया है। होटल को पूरी तरह से सेनेटाइज किया जाएगा। वहीं होटल की बुकिंग भी बंद कर दी गई है। बताया जा रहा है कि सभी कोरोना संक्रमित होटल के कर्मचारी हैं। कुछ दिन पहले सैंपल लिए गए थे तो 25 लोगों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई थी। गौरतलब है कि ताज होटल में कुछ दिन पहले कुछ लोगों के सैंपल लिए गए थे, इनमें 25 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई थी। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने अन्य स्टाफ के भी सैंपल लिये तो ये संख्या बढ़ती चले गई। कोरोना संक्रमित स्टाफ को आइसोलेट किया जा चुका है।

एसएसपी टिहरी तृप्ति भट्ट ने बताया कि होटल स्टाफ में कोरोना संक्रमण के मामले आने के बाद होटल को सेनेटाइज करने के लिए बंद किया गया है। बता दें कि रविवार को उत्तराखंड में 366 कोरोना वायरस के केस सामने आए थे जो साल के सबसे ज्यादा कोरोना केस वाला दिन रहा। बढ़ते कोरोना वायरस को देखते हुए दूसरे राज्यों से आ रहे लोगों की रैंडम सैंपलिंग शुरू हो गई है। इस लिस्ट में छत्तीसगढ़, केरल, मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र और तमिलनाडु राज्य शामिल है। उत्तराखंड सीमाओं पर सैंपल लिए जा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *