Udham Singh Nagar News

उत्तराखंड में चौकाने वाला मामला,बेटी ने बात नहीं मानी तो मां ने की खुदकुशी


उधमसिंहनगर: होली के दिन जिले के एक परिवार में अनहोनी घट गई। वो भी इतनी मामूली सी बात पर कि सोचकर हैरानी होती है। एक मां ने अपनी बेटी को होली पर बाहर जाने से मना किया। जब बेटी नहीं मानी तो मां ने अपनी जिंदगी समाप्त करना उचित समझा। उसने पड़ोस में जाकर खुदकुशी कर ली। शव मिलने के बाद से ही हड़कंप मच गया।

उधमसिंह नगर ज़िले के रुद्रपुर स्थित बी ब्लॉक ट्रांजिट कैंप से यह वारदात सामने आई है। यहां निवास करने वाले हलदार परिवार की होली किसी बुरे सपने के बराबर रही। 40 वर्षीय पुतुल हलदार पत्नी तारक हलदार ने होली के दिन अपनी बेटी को घर के बाहर जाने से रोका।

यह भी पढ़ें: बढ़ते कोरोना के साथ बढ़ा लॉकडाउन का डर,हल्द्वानी मंडी की कैंटीनों को नहीं मिल रहे हैं ठेकेदार

यह भी पढ़ें: नैनीताल आने वाले पर्यटक ध्यान दें, हर एंट्री प्वाइंट पर शुरू हुई कोरोना जांच

मां ने ऐसा इसलिए किया क्योंकि बाहर हुड़दंगियों की भीड़ जमा थी। मगर बेटी को मां का यह कहना जरा भी पसंद नहीं आया और उसने मां के खिलाफ जाकर बाहर जाना बेहतर समझा। इस कारण मां को बहुत गुस्सा आया और वह घर से चली गई।

परिजनों ने हर जगह छान मारी मगर कुछ पता नहीं चल सका। वहीं पड़ोस में चितरंजन सरकार का घर है, जिसके प्रथम तल पर बने कमरे पिछले साल के लॉकडाउन के बाद से ही खाली पड़े थे। हुआ यह की बुधवार को इनमें से एक कमरे से गंदा पानी और बदबू बाहर आने लगी।

मामला संदिग्ध लगा तो भीड़ जमा होती चली गई। पुलिस को भी इस बारे में जानकारी दी गई। सूचना पर पहुंचे एसओ ट्रांजिट कैंप विनोद फर्त्याल ने कमरे का दरवाजा तोड़ दिया। जैसे ही अंदर गए तो सबको होश उड़ गए। अंदर तो पुतुल की लाश फंदे से लटकी हुई थी। परिजनों ने पुलिस को बताया की होली के दिन बेटी से विवाद के बाद से लापता थी।

यह भी पढ़ें: टीम इंडिया के कोच बने बागेश्वर के सुंदर गढ़िया, टीम के साथ पोलेंड रवाना होंगे

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड:होली त्योहार के दिन हुआ घिनौना काम,नौ वर्षीय बेटी के साथ दुष्कर्म,हालत गंभीर

To Top