उत्तराखंड:होली त्योहार के दिन हुआ घिनौना काम,नौ वर्षीय बेटी के साथ दुष्कर्म,हालत गंभीर

0
885

नानकमत्ता: होली के दिन यूं तो कई विवाद सामने आते रहते हैं। मगर नौ साल की बेटी के साथ दुष्कर्म का मामला वाकई होली को बेरंग कर गया। ऊधमसिंहनगर जिले के नानकमत्ता में गांव के एक व्यक्ति पर दुष्कर्म के आरोप लगे हैं। घटना को अंजाम देने के सिलसिले में आरोपित ने बच्ची को काफी ज़ख्मी भी किया है। फिलहाल आरोपित को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।

होली के त्योहार पर लोग अपने रिश्तेदारों के घर जा-जा कर लुत्फ उठाते हैं। बीते रविवार की रात थाना नानकमत्ता क्षेत्र के अंतर्गत आने एक गांव में अपने रिश्तेदारों के यहां नौ साल की बच्ची होली खेलने आई थी। फिर इसके बाद होली पर जो हुआ वह वाकई बहुत शर्मनाक था।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड के बेटे को मिली आईपीएल में कप्तानी,धोनी के असली उतराधिकारी हैं ऋषभ पंत

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड सरकार ने जारी की कोरोना की नई गाइडलाइन, एक अप्रैल से होगी लागू

होली खेलते समय गांव निवासी एक 32 वर्षीय युवक बच्ची को ज़बरदस्ती खेत में उठाकर ले गया। खेत में ले जाकर आरोपित ने उसके साथ दुष्कर्म किया। इस वारदात के दौरान युवक ने बच्ची के चेहरे को बुरी तरह से ज़ख्मी कर दिया।

कुछ देर बाद जब साथ के लोगों को बच्ची नहीं दिखी तो उन्होंने आस-पास में ढूंढा। काफी खोजबीन करने के बाद किशोरी एक खेत में घायल लहुलुहान अवस्था में पड़ी मिली। परिजनों द्वारा तुरंत 112 नंबर पर इस बारे में सूचना दी गई।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: कोरोना वायरस ने पार किया एक लाख का आंकड़ा, कुछ देर पहले जारी हुआ है बुलेटिन

यह भी पढ़ें: एक बार फिर यूट्यूब पर छाए हरिद्वार के शिवम सडाना, शहंशाह गाने में दिखाया अलग अंदाज

घटना के बाद परिजनों ने पुलिस को नामजद तहरीर सौंपते हुए गांव के ही एक युवक पर बच्ची के साथ दुष्कर्म करने का आरोप लगाया। जिसके बाद पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया।

थानाध्यक्ष कमलेश भट्ट ने जानकारी दी कि परिजनों की तहरीर पर आरोपित बिपिन राणा को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ धारा 376 व पास्को 3/4 के तहत मुकदमा दायर कर उसे न्यायालय में पेश किया गया। जहां से उसे जेल भेज दिया गया। दूसरी तरफ चिकित्सक ने बच्ची की गंभीर हालत देखते हुए उसे हल्द्वानी सुशीला तिवारी हॉस्पिटल के लिए रेफर कर दिया है। 

यह भी पढ़ें: शादी के बाद नहीं छोड़ी पढ़ाई, देवरानी-जेठानी ने एक साथ पास की UPPSC परीक्षा

यह भी पढ़ें: जय देवभूमि-आस्था तो देखिए,लग्जरी जिंदगी छोड़ स्विट्जरलैंड से पैदल हरिद्वार पहुंचे बाबा बेन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here