Uttarakhand News

CBSE की तरह उत्तराखंड बोर्ड भी देगा दूसरा मौका, बन रहा है नया नियम

देहरादून- सीबीएसई की तरह उत्तराखंड बोर्ड में हाईस्कूल और इंटर में फेल होने वाले विद्यार्थियों को पेपरबैक मौका मिलेगा। अभी तक उत्तराखंड बोर्ड की परीक्षा में कोई विद्यार्थी फेल होता है तो उसे पूरे साल की पढ़ाई दोबारा करनी पड़ती है। वही सीबीएसई एक विषय में विद्यार्थी को कंपार्टमेंट पेपर देने की छूट देता है। इससे विद्यार्थी का साल खराब होने से बच जाता है।

आंकड़ों पर गौर करें तो उत्तराखंड बोर्ड की परीक्षा में हर साल करीब 50000 विद्यार्थी फेल हो जाते हैं और परीक्षा देने वालों की संख्या करीब ढाई लाख होती है। उत्तराखंड माध्यमिक शिक्षा के निदेशक सीमा जौनसारी ने बताया कि हाईस्कूल और इंटर की बोर्ड परीक्षाओं में फेल होने वाले विद्यार्थियों को पेपर बैग देने की सुविधा दी जाएगी। परिषद की बैठक में एक प्रस्ताव बनाकर शासन को भेज दिया गया है और उसे कैबिनेट में मंजूरी मिलने के बाद लागू कर दिया जाएगा परिषद की बैठक में एक प्रस्ताव बनाकर शासन को भेज दिया गया है और उसे कैबिनेट में मंजूरी मिलने के बाद लागू कर दिया जाएगा।

पेपर बैग नियम अगर लागू होता है तो उत्तराखंड विद्यालयी शिक्षा परिषद पर एक अन्य परीक्षा कराने का भार बढ़ जाएगा। बता दें कि उत्तराखंड विद्यालयी शिक्षा परिषद साल भर में बोर्ड परीक्षाओं के अलावा डीएलएड, यूटीआई, जवाहर नवोदय राजीव गांधी नवोदय सहित 6 परीक्षाओं को आयोजित कर आता है।

To Top