Nainital-Haldwani News

उत्तराखंड बोर्ड की एक लापरवाही से मेरिट से बाहर हुई 10वीं की छात्रा

Ad
Ad
Ad
Ad

रामनगर: उत्तराखंड बोर्ड की 10वीं के परीक्षा परिणाम में बड़ी गड़बड़ी सामने आई है। देहरादून निवासी छात्रा नेहा ममगाईं को मार्कशीट में विज्ञान विषय में 77 के स्थान पर 28 अंक मिले हैं। गलती मानते हुए छात्रा को बोर्ड द्वारा संशोधित मार्कशीट जारी कर दी गई है। मगर अभिभावकों की मांग है कि छात्रा को विज्ञान विषय में 80 नंबर मिलने चाहिए थे।

अभिभावकों ने कहा है कि उत्तर पुस्तिका का मूल्यांकन दोबारा नहीं किया गया तो वे उच्च न्यायालय जाएंगे। बता दें कि राजकीय कन्या इंटर कालेज बुल्लावाला देहरादून से हाईस्कूल की छात्रा नेहा को जारी किए संशोधित रिजल्ट में कुल 470 अंक हैं। जबकि पहले अंक पत्र में 421 अंक थे। अब प्रतिशत भी 84.2 से बढ़कर 94.0 प्रतिशत हो गया है।

कायदे से 470 अंक के साथ नेहा का नाम भी मेरिट लिस्ट में होना चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि फिलहाल मेरिट में 469 अंक पाने वालों का नाम भी है। अभिभावकों ने इसी संबंध में मांग भी की है। नेहा के पिता हरिराम ममगाईं ने जानकारी दी और बताया कि उत्तर पुस्तिका का मूल्यांकन कराने की मांग की गई है।

यह भी पढ़ें 👉  पंतनगर-पिथौरागढ़ के बीच शुरू होगी हवाई सेवा, दिसंबर में मिल सकती है खुशखबरी!

माध्यिमक शिक्षा निदेशक आरके कुंवर ने कहा कि मामले में उक्त कार्रवाई की जा रही है। उत्तर पुस्तिका का पुनः मूल्यांकन का पत्र मिलते ही विचार किया जाएगा। राजकीय माध्यमिक शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष अजय राजपूत ने इसे बड़ी लापरवाही बताया है।

Join-WhatsApp-Group
Ad
To Top