Uttarakhand News

रक्षाबंधन पर्व ने उत्तराखंड रोडवेज को दी संजीवनी, दो करोड़ रुपए की कमाई के साथ टूटे रिकॉर्ड

रक्षाबंधन पर्व ने उत्तराखंड रोडवेज को दी संजीवनी, दो करोड़ रुपए कमाई के साथ टूटे रिकॉर्ड

देहरादून: हर त्योहार की अपनी अलग-अलग मान्यताएं होती हैं। आमतौर पर लक्ष्मी मां का त्योहार दीपावली को माना जाता है। लेकिन उत्तराखंड रोडवेज को लक्ष्मी मां का आशीर्वाद रक्षाबंधन पर ही मिल गया। रोडवेज ने 18 साल का रिकॉर्ड तोड़ते हुए करीब दो करोड़ रुपए की कमाई कर डाली।

उत्तराखंड रोडवेज की हालत से हर कोई वाकिफ है। कोरोना की मार ने रोडवेज को रोड पर ला खड़ा किया। वो तो वक्त वक्त पर कुछ सांसें मिलती रहीं वरना कर्मियों के लिए और भी परेशानी हो जाती है। इस बार रक्षाबंधन पर चमत्कार हो गया। ऐसा लगता है जैसे दीपावली पहले या होली देर से आई है।

दरअसल होली-दिवाली पर ही रोडवेज की कमाई दो करोड़ के आंकड़े को छू पाती है। रक्षाबंधन का हर बार का रिकॉर्ड भी पौने दो करोड़ के आसपास का ही आंकड़ा दर्शाता है। लेकिन इस बार पिछले 18 सालों का रिकॉर्ड टूट गया। रक्षाबंधन पर्व पर कमाई का आंकड़ा दो करोड़ रुपए को छू गया।

यह भी पढ़ें: रानीबाग पुल से भारी वाहनों की आवाजाही बंद,डायवर्जन ने निकाले यात्रियों के पसीने

यह भी पढ़ें 👉  IPL के लिए उत्तराखंड पुलिस ने कसी कमर, नौ लाख रुपए के साथ एक सटोरिए को दबोचा

यह भी पढ़ें: आमा-बूबू को जरूर बताना, कोई परेशानी हो तो 14567 नंबर पर कॉल करना

पिछले साल रक्षाबंधन पर्व पर सब कुछ ठंडा पड़ा हुआ था। लाजमी है कि अंतरराज्यीय परिवहन 50 फीसद यात्री क्षमता की शर्त के साथ चल रहा था। जिस कारण बसें खाली खाली थीं। मगर इस बार कोरोना से राहत है तो इसका फायदा रोडवेज को भी हो गया है।

यह भी पढ़ें 👉  पांच साल बाद युवाओं को मिलेगा खास मौका, उत्तराखंड पुलिस में 1521 पदों पर होगी सीधी भर्ती

रक्षाबंधन पर कुल 887 बसों का संचालन हुआ जबकि कर्मचारियों के अवकाश या ड्यूटी पर नहीं आने की वजह से 106 बसें स्थगित करनी पड़ी। दून मंडल प्रबंधक संजय गुप्ता के अनुसार कुल आय दो करोड़ रुपये में दून मंडल ने एक करोड़ तीन लाख रुपये की आय की, जबकि बाकी 97 लाख रुपये नैनीताल व टनकपुर मंडल की आय रही। रोडवेज महाप्रबंधक दीपक जैन ने बताया कि यह सभी कार्मिकों की मेहनत का परिणाम है।

यह भी पढ़ें 👉  पांच साल बाद युवाओं को मिलेगा खास मौका, उत्तराखंड पुलिस में 1521 पदों पर होगी सीधी भर्ती

यह भी पढ़ें: सोच हिंदी लेकिन पढ़ाई अंग्रेजी में… स्कूल के खिलाफ धरने पर बैठी रामनगर GGIC की छात्राएं

यह भी पढ़ें: अफगानिस्तान से लौटे दून के नितेश, तालिबानियों को 45 लाख रुपए देकर बची जान

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड के सरकारी स्कूलों में जुड़ेंगे रोजगार के ये विषय, 12वीं पास करते ही छात्र बन सकेंगे आत्मनिर्भर

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: महिला को जबड़े से खींच कर ले गया गुलदार,ननद ने बिना डरे ऐसे बचाई भाभी की जान

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top