Uttarakhand News

उत्तराखंड:तीसरी लहर से बच्चों को बचाना हैं, 80 पिडियाट्रिक एंबुलेंस होगी संचालित


देहरादून: कोरोना वायरस की दूसरी लहर से उभरने के बाद तीसरी लहर को लेकर लगातार अनुमान लगाया जा रहा है। एक्सपर्ट्स का कहना है कि यह बच्चों को ज्यादा नुकसान पहुंचा सकती है। इन सभी अनुमानों को उत्तराखंड सरकार गंभीरता से ले रही है और स्वास्थ्य तैयारियों को शत प्रतिशत किया जा रहा है। इसके अलावा सुविधाओं को भी बढ़ाया जा रहा है। बच्चों को सुरक्षा देने के लिए उत्तराखंड में पिडियाट्रिक एंबुलेंस का संचालन होगा।

इन एंबुलेंस से बच्चों को हायर सेंटर ले जाया जाएगा। उत्तराखंड में 80 पिडियाट्रिक एंबुलेंस को संचालित किया जाएगा, इन्हें जिलावार चलाया जाएगा। पिडियाट्रिक एंबुलेंस में तैनात कर्मचारियों को मशीनों को संचालित करने के लिए प्रशिक्षण भी दिया जा रहा है। बता दें कि फिलहाल प्रदेश में 108 की 272 एंबुलेंस संचालित होती है। 218 बेसिक लाइफ सपोर्ट और 54 एडवांस लाइफ सपोर्ट एंबुलेंस शामिल हैं।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में पहली बार...अब पहाड़ी मार्गों पर दौड़ेंगी चार पहियों वाली खास बसें

स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों बताते हैं कि राज्य के सरकारी, निजी अस्पतालों, मेडिकल कॉलेजों में लगभग 335 बाल रोग विशेषज्ञ हैं। सरकारी अस्पतालों व मेडिकल कॉलेजों में तैनात बाल रोग विशेषज्ञों को ट्रेनिंग दी जा रही है। वहीं, निजी अस्पतालों के बाल रोग विशेषज्ञों को भी संक्रमित बच्चों के उपचार व देखभाल की ट्रेनिंग दी जाएगी। 

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड का कोई जवाब नहीं, अब बागवानी में मिला सर्वश्रेष्ठ राज्य का अवार्ड

इस बारे में निदेशक एनएचएम व सदस्य सचिव स्टेट टास्क फोर्स डॉ. सरोज नैथानी ने बताया कि बच्चों की सुरक्षा के लिए शत प्रतिशत तैयारी जरूरी है। संक्रमण से बचाव व उपचार के लिए स्वास्थ्य सुविधाओं की व्यवस्था बनाने पर जोर दिया जा रहा है।108 आपातकालीन सेवा से 80 पिडियाट्रिक एंबुलेंस को संचालित किया जाएगा। बाल रोग विशेषज्ञ, नर्सों व अन्य पैरामेडिकल स्टाफ को भी संक्रमित बच्चों के उपचार व देखभाल की ट्रेनिंग दी जा रही है। 

यह भी पढ़ें: जरूरी खबर, एक सिंतबर से शुरू होंगी कुमाऊं विश्वविद्यालय की परीक्षाएं

यह भी पढ़ें 👉  खत्म होगा शिक्षक बनने का इंतजार,उत्तराखंड में 451 पदों पर निकली भर्ती

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड मांगे भू-कानून,नहीं तो पूरे प्रदेश में होगा उग्र प्रदर्शन

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी में बड़ा हादसा, गौला नदी में डूबे दो भाई

यह भी पढ़ें: आप नेता मनीष सिसोदिया ने कहा उत्तराखंड की जनता के पास हैं केवल दो विकल्प

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में हज़ारों युवाओं के साथ धोखा, सरकारी भर्ती का भर्जी विज्ञापन सोशल मीडिया पर वायरल

यह भी पढ़ें: BCCI का बड़ा अपडेट, ऋषभ पंत ने कोरोना वायरस को दी मात

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad - Vendy Sr. Sec. School

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top