Nainital-Haldwani News

कैंची धाम में श्रद्धालुओं की भीड़ के साथ बढ़ी महंगाई, वसूले जा रहे मनचाहे दाम


नैनीताल: बाबा नीम करौली महाराज के धाम कैंची धाम में इन दिनों श्रद्धालुओं का आना जाना काफी बढ़ गया है। भक्तों की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। इसमें कोई दो राय नहीं कि नीम करौली बाबा को केवल उत्तराखंड ही नहीं बल्कि देश विदेश में माना जाता है। पिछले कुछ समय में भक्तों की लिस्ट और भी बढ़ गई है। लेकिन बाबा के भक्तों को महंगाई झेलनी पड़ रही है, इस खबर ने हर किसी को चकित किया है।

दरअसल, गर्मियों के मौसम के शुरू होते ही वीकेंड पर नैनीताल तो हाउसफुल होने लगता है। मंदिरों में भी खासा भीड़ बढ़ जाती है। बाबा नीम करौली महाराज के कैंची धाम का सोशल मीडिया पर बीते कुछ महीनों में काफी अधिक प्रचार प्रसार हुआ है। ऐसे में आए दिन श्रद्धालु यहां पहुंच रहे हैं। भीड़ बढ़ने के बाद व्यापारियों ने भी मनमानी शुरू कर दी है।

बता दें कि जानकारी के अनुसार व्यापारियों द्वारा लड्डू, फल, कंबल और खाने के दोगुने दाम भक्तों से वसूले जा रहे हैं। होटल संचालकों की ओर से भी पांच हजार तक एक रात का किराया लिया जा रहा है। पिछले 2 दिन में भवाली से लेकर गरमपानी तक सारे होटल फुल हुए तो लोग अपने ही गाड़ी में रात गुजारने को मजबूर हो गए। कई श्रद्धालुओं को 5000 से लेकर 8000 रुपए में एक रात के लिए कमरा मिला। प्रशासन को इस मनचाही महंगाई पर कहीं ना कहीं अंकुश लगाना होगा और साथ ही श्रद्धालुओं की संख्या को भी नियंत्रित करना होगा अन्यथा कैंची धाम एक पर्यटक स्थल जैसा हो जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  अधिकारियों को एक्टिव रहने के निर्देश, कुमाऊं दीपक रावत बोले, खुद मॉनिटरिंग करूंगा

कैंची धाम पहुंचे सैलानियों का कहना है कि कैंची में 300 रुपए किलो लड्डू, 100 रुपए दर्जन केले, 200 रुपए किलो सेब, 600 से 800 रुपए प्रति कंबल, 50 रुपए चाय और 100 रुपए आलू का परांठा सहित हर चीज के रेट बढ़ा दिए गए हैं। जबकि, भवाली बाजार में मिठाई से लेकर फल तक आधे दाम पर बिक रहे हैं। हालांकि, होटल के रेट वहां भी पहले से बढ़े हैं। बता दें कि जिला पर्यटन अधिकारी ने साफ किया है कि अगर कोई भी होटल और होम स्टे संचालकों द्वारा अधिक किराया लिया जाएगा तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

To Top
Ad
Ad