HomeUttarakhand NewsDehradun Newsग्राफिक एरा यूनिवर्सिटी की दिल जीतने वाली पहल, छात्रों को विमान के...

ग्राफिक एरा यूनिवर्सिटी की दिल जीतने वाली पहल, छात्रों को विमान के जरिए पहुंचाया घर

देहरादून: भरोसा जीतने से ज़्यादा मुश्किल काम होता है उस भरोसे को बनाए रखना। ग्राफिक एरा यूनिवर्सिटी ने इस कोरोना संक्रमण के डरावने दौर में ना सिर्फ छात्रों बल्कि अभिभावकों का भी दिल जीत लिया है। विवि ने बाहरी राज्य के हरेक छात्र-छात्रा को विमान के जरिए उनके घर पहुंचाया है। इस पहल की सराहना हर तरफ हो रही है।

दरअसल कुछ समय पहले की घोषणा के अनुसार देहरादून स्थित ग्राफिक एरा विश्वविद्यालय में ऑनलाइन कक्षाएं शुरू होने वाली थी। इसलिए बहुत से राज्यों के छात्र विवि पहुंच गए थे। मगर इसी बीच कोरोना वायरस ने अपना आतंक मचाना शुरू कर दिया। जिसकी वजह से प्रदेश की राजधानी देहरादून में सबसे ज़्यादा हालात खराब हुए।

अब हालात खराब हुए और कई शहरों व राज्यों में कर्फ्यू या लॉकडाउन की स्थिति पैदा होने लगी। जिसकी वजह से दूर राज्यों से आए छात्रों के अभिभावकों को चिंता सताने लगी। ऐसे में ग्राफिर एरा यूनिवर्सिटी ने छात्रों को घर भेजने के लिए एक अनोखा प्लान तैयार किया। ऐसा प्लान तैयार किया जिससे सभी विद्यार्थी घर पर सुरक्षित पहुंच सकें।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में दोगुना होगा वाहनों का किराया

यह भी पढ़ें: बिना कोरोना रिपोर्ट उत्तराखंड में एंट्री बंद, प्रवासियों के लिए पंजीकरण जरूरी !

सोमवार की सुबह छात्रों को अलग-अलग विमानों की मदद से  आंध्र प्रदेश, असम, पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, कर्नाटक, वाराणसी और लखनऊ पहुंचाया गया। जानकारी के अनुसार ज़्यादातर छात्र-छात्राएं शाम होने तक सुरक्षित अपने घर पहुंच गए थे।

इस फैसले को छात्रों और उनके अभिभावकों ने खूब सराहा। ग्राफिक एरा ग्रुप के अध्यक्ष डॉ. कमल घनशाला ने कहा कि जब अभिभावकों ने हमारे भरोसे अपने बच्चों को इतनी दूर भेजा है तो यह हमारी ज़िम्मेदारी बनती है कि हम इस भरोसे को कायम रखें। उन्होंने बताया इसलिए यह प्लान बनाया गया था। साथ ही जिन राज्यों में नेगेटिव आरटीपीसीआर रिपोर्ट अनिवार्य की गई है, वहां के छात्रों के टेस्ट कराए गए हैं।

यह भी पढ़ें: पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने लिखा केंद्र को पत्र, ट्रेन में बनाया जाए कोविड कोच

यह भी पढ़ें: दिल्ली की तरह उत्तराखंड में आप को मिला AK, कर्नल अजय कोठियाल बने चेहरा

यह भी पढ़ें: एक मई से 18 साल से अधिक उम्र के हर शख्स को लगेगी कोरोना वैक्सीन

यह भी पढ़ें: सोमवार को उत्तराखंड में मिले 2 हजार से ज्यादा केस,कुल 90 इलाकों में लॉकडाउन

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here