Election Talks

टिकट कटने से नाराज BJP नेता ने निर्दलीय चुनाव लड़ने का फैसला किया,विधायक भी तैयारी में…


हल्द्वानी में भारतीय जनता पार्टी को लगा एक और झटका
Ad
Ad

हल्द्वानी: भाजपा ने अपने 59 दावेदारों की घोषणा कर दी है। भाजपा की पहली सूची में 10 विधायकों को टिकट से दूर रखा गया है और बगावत भी शुरू हो गई है। वहीं जिन लोगों ने अपने दावेदारी पेश की और टिकट नहीं मिलने से वह भी निराश हो गए हैं और निर्दलीय मैदान पर उतरने की कोशिशों में लग गए हैं।

Ad
Ad

कर्णप्रयाग विधानसभा सीट पर अनिल नौटियाल को अपना ने अपना चेहरा घोषित किया है। इसके बाद नाराज होकर भाजपा के वरिष्ठ नेता टीका प्रसाद मैखुरी ने भाजपा छोड़कर निर्दलीय चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया है। उन्होंने कहा कि मेरे साथ भाजपा पार्टी ने धोखा और अन्याय किया है। मैंने हमेशा पार्टी के लिए ईमानदार रहा। मां के समान समझकर काम किया लेकिन जिन लोगों ने पार्टी का विरोध किया उनको पार्टी ने आगे किया। उन्होंने कहा कि वे वर्ष 2002 से लगातार टिकट की दौड़ में रहे हैं, लेकिन हर बार पार्टी की ओर से उनको निराशा हाथ लगी। उन्होंने कहा कि इस बार निर्दलीय चुनाव लड़ूंगा। 

इसके अलावा थराली से भाजपा विधायक मुन्नी देवी शाह को टिकट नहीं दिया गया है। मुन्नी देवी शाह का कहना है कि मेरा टिकट क्यों काटा गया, हाईकमान से इसका जवाब चाहिए। मैंने विधायक रहते हुए क्षेत्र के विकास में ऐतिहासिक कार्य किए हैं। केंद्र व राज्य सरकार की योजनाओं को भी जन-जन तक पहुंचाने का कार्य किया। भाजपा ने थराली से बिल्कुल नए और कांग्रेस पृष्ठभूमि के व्यक्ति को टिकट दिया है, इससे कार्यकर्ताओं का मनोबल टूटा है। समर्थकों की ओर से मुझे निर्दलीय चुनाव लड़ने की बात कही जा रही है, मैं इस पर मंथन करूंगी।

Join-WhatsApp-Group
Ad
Ad
Ad
Ad
To Top