संक्रमितों को मिलेगा इलाज,DRDO की मदद से हल्द्वानी में बनेगा 500 बेड का कोविड अस्पताल

हल्द्वानी: कोरोना संक्रमण तीव्र गति से कहर बरपा रहा है। राज्य में हालात दिन प्रतिदिन बिगड़ रहे हैं। हालांकि मरीजों के रिकवर होने का सिलसिला भी जारी है मगर मामले कम होने का नाम नहीं ले रहे हैं। बुधवार को भी राज्य में 6000 से ज़्यादा केस सामने आए हैं। यही वजह है कि सरकार, स्वास्थ्य विभाग और जिलेवार प्रशासन पूरी मुस्तैदी से स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने में जुटा हुआ है।

हल्द्वानी शहर में भी लगातार कंटेनमेंट जोन बनाए जा रहे हैं। हल्द्वानी के कुछ इलाकों को कोरोना संक्रमण के लिहाज से काफी गंभीर माना जा रहा है। सुशीला तिवारी अस्पताल में लगातार मरीजों के बढ़ने से दबाव बढ़ रहा है। यही वजह है कि अब इसके अलावा कई सारे प्राइवेट अस्पतालों को कोविड मरीजों के लिए भी संचालित किया जा रहा है।

कोविड केयर सेंटर, अस्पतालों में बेड बढ़ाने की कवायद लगातार जारी है। अब इसी दिशा में हल्द्वानी में 500 बेडों के कोविड अस्पताल बनने का विचार जमीन पर उतरने को तैयार हो चुका है। यह अस्पताल रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) के सहयोग से बनेगा। बता दें कि सुशीला तिवारी अस्पताल में सभी 425 बेड कोविड मरीजों से फुल हो चुके हैं। प्राइवेट अस्पतालों में भी बेड की उपलब्धता नहीं है।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: दफ्तर बंद करने के सभी आदेश कैंसल,कल से सरकारी ऑफिस खुलेंगे

यह भी पढ़ें: उतरांचल रोडवेज कर्मचारी यूनियन के अध्यक्ष ने कहा राम भरोसे है उत्तराखंड परिवहन निगम

बहरहाल यह बातें कुछ समय से की जा रही थी कि 500 बेड का कोविड अस्पताल तैयार किया जाए। इसके लिए बकायदा प्रशासन के एक आलाधिकारी और डीआरडीओ से संवाद कर रहे थे। अब बताया जा रहा है कि गुरुवार को अस्पताल के लिए जमीन का चयन हो जाएगा। इसके बाद अन्य औपचारिकताएं पूरी की जाएंगी। खबरें हैं कि डीआरडीओ की टीम गुरुवार को सुशीला तिवारी अस्पताल और स्वामी राम कैंसर इंस्टीट्यूट का निरीक्षण करेगी। 

जानकारी के अनुसार इस कोविड अस्पताल में सभी बेड ऑक्सीजन प्वाइंट से लैस होंगे। बता दें कि फैब्रीकेटेड अस्पताल के निर्माण पर लगभग दस से पंद्रह करोड़ रुपये खर्च होने की संभावना है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार प्रशासन का प्रयास औपचारिकताओं को जल्द पूरा कर निर्माण के काम को जल्द से जल्द शुरू करने का है।

यह भी पढ़ें: सैलानी ध्यान दे, कोरोना के चलते मसूरी समेत 4 जगहों पर लगा Curfew

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: एक दिन में 50 प्रतिशत से ज्यादा मरीजों ने कोरोना वायरस को हराया

यह भी पढ़ें: DM गर्ब्याल ने जनता और अस्पतालों की दूरी को किया कम, ज़रूरत पड़ने पर इन्हें करें कॉल

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड:पुलिस कांस्टेबल पर दुष्कर्म और जान से मारने की धमकी देने का आरोप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *