उत्तराखंड को आप पर गर्व है शिप्रा जोशी, रूस में कथक सिखाने के लिए हुआ है हल्द्वानी की बेटी का चयन

हल्द्वानी: कलाकारी के क्षेत्र में भी प्रदेश वासी पीछे नहीं रहने वाले। यहां हर तरह की प्रतिभाओं का समागम मौजूद है। उत्तराखंड वासी देश-विदेश में अपनी छाप छोड़ने के लिए जाने जाते रहे हैं। इसी श्रंखला में अब हल्द्वानी की कथक डांसर शिप्रा जोशी का नाम भी जुड़ गया है। शिप्रा जोशी का चयन मॉस्को में कथक सिखाने के लिए हुआ है। पूरा उत्तराखंड इस उपलब्धि पर खुशी जता रहा है।

हल्द्वानी निवासी शिप्रा जोशी ने काठगोदाम स्थित सेंट थेरेसा सीनियर सेकेंडरी स्कूल और फिर नैनीताल स्थित डीएसबी कॉलेज से अपनी ग्रेजुएशन पूरी की। उन्होंने गुरु प्रेरणा श्रीमाली व गुरु नंदनी सिंह से नृत्य की बारीकियां सीखी। बता दें कि शिप्रा जोशी मूल रूप से जयपुर के घराने से संबंध रखती हैं।

हल्द्वानी का नाम विश्व पटल पर लाने वाली शिप्रा जोशी ने कथक नृत्य प्रशिक्षण की शुरुआत नूपुर नृत्य कला केंद्र हल्द्वानी से शुरू की थी। जानकारी के अनुसार उन्होंने कथक केंद्र नई दिल्ली से परास्नातक के बाद संस्कृति मंत्रालय से स्कॉलरशिप प्राप्त की है।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में बैंक केवल 4 घंटे के लिए खुलेंगे, आदेश जारी हुआ

यह भी पढ़ें: कोरोना अलर्ट उत्तराखंड, तीन दिन तक बंद रहेंगे सरकारी दफ्तर

विदेश मंत्रालय के अंतर्गत आने वाले इंडियन काउंसिल फॉर कल्चरल रिलेशंस (आइसीसीआर) से शिप्रा को यह सम्मान मिला है। दरअसल कथक के क्षेत्र में शिप्रा का अच्छा खासा नाम है। इसलिए आइसीसीआर ने शिप्रा को अध्यापक व सह कलाकार के रूप में चुना है। वह 24 अप्रैल को रूस की राजधानी मॉस्को स्थित भारतीय दूतावास में अपना दायित्व संभालेंगी।

शिप्रा जोशी की उपलब्धियों का अंदाज़ा इस बात से लगाया जा सकता है कि वह दूरदर्शन की वरीयता हासिल सूचीबद्ध कलाकार हैं। साथ ही दिल्ली, उदयपुर, चंडीगढ़, अल्जीरिया समेत देश-विदेशों में कई बार उन्हें सराहना मिली है। राष्ट्रपति भवन में भी वह तारीफ बंटोर चुकी हैं। माॅस्को में होने वाले कार्यक्रम के लिए उन्हें शहरवासियों ने बधाई दी है।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में निजी कॉलेज भी बंद हुए, इन छात्रों को मिलेगी छूट, आदेश जारी

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: बची सिंह रावत के बाद भाजपा के एक और बड़े नेता का निधन

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में करीब दोगुने लोगों ने कोरोना वायरस को हराया, बुलेटिन देखें

यह भी पढ़ें: उत्तराखण्ड पत्रकार महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष निशीथ सकलानी कोरोना संक्रमित

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *