उत्तराखंड:प्लाज्मा के लिए नहीं होना पड़ेगा परेशान,एक क्लिक पर हो जाएंगे सारे काम

हल्द्वानी:कोरोना वायरस ने भारत में पैनिक बटन दबा दिया है। कोरोना वायरस के संकट से लोगों को बचाने के लिए नैनीताल जिला प्रशासन ने पहल शुरू की है। जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल ने बताया कि प्रशासन अब इस बीमारी से ठीक हो चुके लोगो के साथ-साथ प्लाज्मा डोनरो को सूचीबद्ध कर रहा है जिससे जरूरत पड़ने पर लोगो की मदद की जा सकेगी।

उन्होंने बताया कि सभी निजी अस्पतालों को संबंधित फार्मेट भेजा दिए गये है। अस्पताल अब रोजाना ठीक होने वाले मरीजों की जानकारी नाम,पता तथा मोबाइल नम्बर के साथ प्रशासन को उपलब्ध कराएगा। उसके बाद प्लाज्मा डोनरर्स सूचीबद्ध किए जाएंगे। यदि किसी कोविड मरीज को प्लाज्मा की जरूरत होगी तो मरीज के परिजन अस्पताल प्रशासन या डोनर से सम्पर्क कर सकेगे। जिलाधिकारी ने कहा कि इससे मरीजों के परिजनों को प्लाज्मा के लिए परेशान नही होना पडे़गा।

मुख्य विकास अधिकारी नरेन्द्र सिंह भण्डारी ने कहा है कि वर्तमान में कोरोना का संकट फिर से बढ़ने लगा है। उन्होंने जनता से अपील की कि ज्यादा से ज्यादा लोग प्लाज्मा डोनेट करने के लिए आगे आयें। यह कार्य किसी का जीवन बचाने में मदद कर सकता है और आप नेकी के भागीदार बनेगे।

उन्होंने बताया कि प्लाज्मा थेरेपी उन लोगो के रक्त में पाये जाने वाले एंटीबाडी का उपयोग करती है जो संक्रमण से संक्रमित (या आक्षेपित) से ठीक हुए है जो संक्रमित रोगियो का इलाज करते है। उन्होने कहा कि इच्छुक संक्रमित व्यक्ति पाॅजटिव होने के चार-छः सप्ताह बाद अपना प्लाज्मा डोनेट कर सकता है। प्लाज्मा डोनेट करने वाले ऑनलाइन पोर्टल https://tinyurl.com/plasmaDonorNtl पर जानकारी देनी होगी। जिला प्रशासन जानकारी प्राप्त होती ही इच्छुक प्लाज्मा डोनेटर्स से सम्पर्क कर तिथि एंव स्थान के लिए सूचित करेगा।
एक बार प्लाज्मा देने से लोगो की जिन्दगी बच सकती है।

आपके प्लाज्मा दान करने से कोरोना संक्रमित लोगो फायदा हो सकता है। आपकी इस पहल से लोगो के चहरे पर खुशियां आ सकती है। इसलिए अधिक से अधिक प्लाज्मा डोनेट कर लोगो की खुशियों का कारक बने। उन्होने कहा कि नौजवान और स्वस्थ लेागो का कोई नुकसान नही होगा। बीमार लोगो को इससे जिन्दगी की उम्मीद मिलती है। किसी को उसकी जिन्दगी वापस लौटाने के लिए प्लाज्मा अवश्य दान करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *