Ad
Uttarakhand News

गांव-गांव तक पहुंचीं सड़कें, अल्मोड़ा और पिथौरागढ़ ने देश के टॉप-10 जिलों में बनाई जगह

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

अल्मोड़ा: पहाड़ के दूरस्थ इलाकों की चिंता वहां की सड़कों को लेकर सबसे अधिक होती है। कई बार गांवों तक सड़कें ना होने से मरीजों को बहुत परेशानी झेलनी पड़ती है। बच्चों को स्कूल जाने में भी दिक्कतें होती हैं। लेकिन अब माहौल बदल रहा है। ग्रामीण सड़क निर्माण के मामले में उत्तराखंड के दो जिलों को देश के टॉप 10 जिलों में स्थान मिला है। पीएमजीएसवाई के तहत बनाई गई 30 जिलों की सूची में पिथौरागढ़ को तीसरा स्थान एवं अल्मोड़ा को 10वां स्थान मिला है।

प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के अंतर्गत उत्तराखंड के विभिन्न जिलों में काम चल रहा है। इसी क्रम में अब एक अच्छी खबर आई है। दरअसल केंद्र सरकार द्वारा जारी की गई पीएमजीएसवाई की वर्ष 2021-22 की सूची में उत्तराखंड के तीन जिले शामिल हैं। इस लिस्ट में पिथौरागढ़ को तीसरा, अल्मोड़ा को दसवां और चमोली को 22वां स्थान मिला है। जहां पिथौरागढ़ में एक साल में 363.383 किमी तो वहीं अल्मोड़ा में 321.87 किमी सड़क निर्माण हुआ है।

यह भी पढ़ें 👉  स्कूल जाने के लिए तैयार होकर सरयू नदी में कूदी 12वीं की छात्रा, शव बरामद

बता दें कि गढ़वाल मंडल अंतर्गत आने वाले चमोली जिले में 237.348 किमी सड़क निर्माण हुआ है। गौरतलब है कि ये सूची देश के 30 जिलों को लेकर बनाई गई थी। इसमें उत्तराखंड के तीन जिले शामिल होने के साथ साथ दो जिलों को टॉप 10 में जगह मिली है। कहीं ना कहीं, ये उत्तराखंड के आने वाले कल के लिए एक अच्छा संदेश है। जम्मू कशमीर का उधमपुर जिला 644.05 किमी सड़क निर्माण के साथ टॉप पर है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी: सीडीओ का चेतावनी भरा फरमान,एक हफ्ते में सुधार नहीं हुआ तो नौकरी होगी खत्म

जिलाधिकारी डॉ. आशीष चौहान ने इस मौके पर खुशी जताई है। उन्होंने कहा कि ये एक बड़ी सफलता है। आगे चलकर इससे भी बेहतर कार्य करेंगे। जिससे जनपद को शीर्ष पर लाया जा सके। डीएम ने इस योजना से जुड़े अधिकारियों व कर्मचारियों को भी सफलता का मुख्य हकदार बताया।

Join-WhatsApp-Group
To Top