Nainital-Haldwani News

गौलापार स्टेडियम में लापरवाही पर भड़के कमिश्नर दीपक रावत, बोले “मुझे हर बात लिखित में चाहिए…”

Ad
Ad
Ad
Ad

हल्द्वानी: गौलापार में बने अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम का औचक निरीक्षण करने पहुंचे कुमाऊं कमिश्नर दीपक रावत ने एक बार फिर अधिकारियों के हाथ पांव फुला दिए। दरअसल आयुक्त दीपक रावत ने पहले बिजली के तारों के खुले पड़े होने पर फटकार लगाई। फिर इंजीनियर के मौके पर उपस्थित ना होने पर लताड़ा। उन्होंने कहा मुझे आपकी कही गई बातें लिखित में चाहिए, वरना कार्रवाई होगी।

सोमवार को कुमाऊं आयुक्त दीपक रावत गौलापार स्टेडियम पहुंचे। जहां उन्होंने 15.10 करोड़ के निर्माण कार्यों का निरीक्षण किया। गौरतलब है कि स्टेडियम को बैडमिंटन कोर्ट, वॉलीबॉल कोर्ट, स्विमिंग पूल सहित अन्य स्पोर्ट्स की गतिविधियों के लिए तैयार किया जाना है। मगर आईएएस दीपक रावत को व्यवस्थाएं दुरस्त नहीं मिली तो वह बिखर गए।

कमिश्नर के गंभीर सवालों को जवाब अधिकारियों के पास भी नहीं था। वहां खुले मे बिजली के तार पड़े थे। जिस पर आयुक्त दीपक रावत ने कहा कि यहां शॉर्ट सर्किट से आग लगती है तो कौन जिम्मेदार होगा। इसके बाद इलेक्ट्रिक और सिविल इंजीनियर के छुट्टी पर जाने से भी वो नाराज हुए। उन्होंने मौजूद अधिकारियों से कहा कि आप जो बातें बोल रहे हैं, उन्हें लिखित में दीजिए। वरना आपके खिलाफ भी कार्रवाई करूंगा।

यह भी पढ़ें 👉  अभिनेत्री बनाने के नाम पर उत्तराखंड की युवती के साथ गलत काम, सोशल मीडिया से जरा बचके...

बता दें कि उन्होंने खेल विभाग को निर्माणदायी संस्था के ऊपर तत्काल पेनल्टी लगाने के निर्देश भी दे दिए हैं। इसके अलावा अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम के रखरखाव को लेकर कमिश्नर ने कहा कि जल्द इसमें शासन से वार्ता कर इस पूरे कॉन्प्लेक्स के रखरखाव की व्यवस्था की जाएगी। आयुक्त दीपक रावत के इस एक्शन से पूरे कुमाऊं के अधिकारियों में अफरा तफरी मची है।

Join-WhatsApp-Group
Ad
To Top