Nainital-Haldwani News

हल्द्वानी केमू स्टेशन स्थित परचून की दुकान बनी शराब का ठेका,तहखाने में मिला सच


हल्द्वानी केमू स्टेशन स्थित परचून की दुकान बनी शराब का ठेका,तहखाने में मिला सच

हल्द्वानी: केमू स्टेशन स्थित एक परचून की दुकान लंबे समय से ही शराब का ठेका बनी हुई थी। या कहें दुकान की आड़ में शराब की धड़ल्ले से बिक्री की जा रही थी। लेकिन अंत में आबकारी विभाग की नज़र से दुकान स्वामी बच ना सका। छापेमारी हुई तो दूध का दूध और पानी का पानी हो गया। मौके से पांच पेटी बरामद हुई हैं।

हल्द्वानी स्थित केमू बस स्टेशन के पास एक परचून की दुकान में शराब को बेचने का काम काफी समय से चल रहा था। आबकारी विभाग को शिकायत मिली तो शनिवार सुबह साढ़े दस बजे नैनीताल व मंडलीय प्रवर्तन दल मौके पर जा पहुंचा।

यह भी पढ़ें 👉  सिडकुल: चार बदमाशों के फिल्मी अंदाज ने उड़ाई उत्तराखंड पुलिस की नींद, सवा करोड़ की लूट का मामला

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में 21 जून से खुलेंगे कॉलेज, फ़िलहाल ऑनलाइन कक्षाएँ होंगी

यह भी पढ़ें: डेब्यू में उत्तराखंड की स्नेह राणा ने रचा इतिहास,टीम इंडिया को हार से बचाया

तलाशी में हैरान कर देने वाला तहखाना सामने आया। जिसके अंदर शराब की प्लास्टिक की बोतलें छिपा रखी थी। आबकारी निरीक्षक महेंद्र बिष्ट के मताबिक ने बताया कि अरुणांचल प्रदेश में बिक्री के लिए तैयार की गई 48 बोतल तथा चंडीगढ़ में बिकने वाली 12 बोतल बरामद हुई। इस तरह कुल पांच पेटी शराब मौके से मिली।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड आपदा: AAP ने भाजपा सरकार पर लगाए भ्रष्टाचार व लापरवाही के आरोप, किया मौन धरना प्रदर्शन

बहरहाल ये कोई नई बात ये नहीं है। इससे पहले भी शहर में नशे समेत इस तरह की बिक्री के कई मामले सामने आ चुके हैं। पहाड़ी जिलों में भी नशा बढ़ने का कारण यही है। कोरोना काल में शराब के ठेके बंद थे तो तस्करों ने खूब पैसे बनाए। कई बार यह पुलिस के हत्थे भी चढ़े।

यह भी पढ़ें: 17 साल की शैफाली वर्मा ने तोड़ा 26 साल पुराना रिकॉर्ड,टेस्ट डेब्यू में बनाए कई कीर्तिमान

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड:वैक्सीन लगाई कोविशील्ड और प्रमाण पत्र कोवाक्सीन का मिला

फिलहाल मामले के बाद परचून की दुकान पर आबकारी अधिनियम में मुकदमा पंजीकृत किया गया है। आरोपित प्रमोद प्रजापति परचून की दुकान में शराब बेचने का लाइसेंस नहीं दिखा सका। जिसके बाद अधिकारियों द्वारा दुकानदार को गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपित को न्यायालय के सामने पेश किया गया।

यह भी पढ़ें 👉  खत्म होगा शिक्षक बनने का इंतजार,उत्तराखंड में 451 पदों पर निकली भर्ती

इस कार्रवाई में आबकारी निरीक्षक महेंद्र सिंह बिष्ट, हरीश जोशी, उप आबकारी निरीक्षक मोहन कोरंगा, आनंद दोसाद, रमाकांत बावड़ी, महेश लोहनी आदि मौजूद थे।

यह भी पढ़ें: अच्छी खबर:दिल्ली-रामनगर कॉर्बेट ईको ट्रेन को रेल मंत्रालय ने सैद्धांतिक मंजूरी दी

यह भी पढ़ें: पद्मश्री मिल्खा सिंह का निधन, इंग्लैंड में WTC खेल रही टीम इंडिया ने दी श्रद्धांजलि

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad - Vendy Sr. Sec. School

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top