Nainital-Haldwani News

नैनीताल: पंजीकरण को आए लोगों ने पालिका में लगाया जमघट, कोरोना के नियम हुए तार तार


नैनीताल: कोरोना ने आर्थिक रूप से कमजोर तबके की कमर तोड़ कर रख दी है। शासन प्रशासन की तरफ से लगातार ऐसे प्रयास किए जा रहे हैं जिनसे लोगों की कुछ मदद हो सके। लेकिन मदद की आड़ में कोरोना नियमों की धज्जियां उड़ने की खबर वाकई खराब लगती है। यह मामला नैनीताल नगर पालिका का है। सरकारी सहायता के लिए आवेदन करने आए लोगों ने भीड़ लगा कर नियमों को ताक पर रख दिया। फौरन कार्यक्रम को रोककर डीएसए मैदान पर शिफ्ट करना पड़ गया।

दरअसल गुरुवार को प्रशासन और पालिका की तरफ से जरूरतमंदों को जानकारी दी गई थी कि सरकारी सहायता के लिए पंजीकरण अनिवार्य है। इसे कराने हेतु शुक्रवार को लोगों से आने को कहा गया। अब पालिका का दफ्तर शुक्रवार को खुलता, इससे पहले ही वहां नजारा देखने लायक था। हुआ ये कि पालिका के प्रथम तल से लेकर तृतीय तल तक लोगों का हुजूम इकठ्ठा हो गया था।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में पहली बार...अब पहाड़ी मार्गों पर दौड़ेंगी चार पहियों वाली खास बसें

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में उपनल ने निकाली 100 से ज्यादा भर्ती, एक क्लिक पर करें अप्लाई

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड पुलिस ने कानून व्यवस्था के लिहाज से पूरे देश में मारा टॉप, नीति आयोग ने जारी की रिपोर्ट

कोविड नियमों की बात तो दूसरी है बल्कि लोगों में धक्का मुक्की तक होने लगी। कर्मचारियों को गेट के बाहर ही रहना पड़ा। इसके अलावा जो कर्मचारी पटल में थे, उन्होंने भी दरवाजा बंद कर दिया। बाद में जब पालिका सभासद मनोज जोशी ने भीड़ देखी तो उन्होंने फौरन पंजीकरण प्रक्रिया को पालिका दफ्तर से हटा कर फ्लैट्स मैदान पर शिफ्ट करने को कहा।

यह भी पढ़ें 👉  सफाई कर्मचारियों के समर्थन में उतरे सुमित हृदयेश, हल खोजे नगर निगम नहीं तो होगा उग्र आंदोलन

इतने देर में भीड़ को नियंत्रित करने के लिए मौके पर पुलिस बल भी आ गया था। जिन्हें कोतवाल अशोक कुमार सिंह ने भेजा था। धीरे धीरे कर के उसके बाद भीड़ पालिका से हट सकी। इसके बाद पंजीकरण की प्रक्रिया को वैक्सीनेशन सेंटर के पास फ्लैट मैदान पर पूरा किया गया। पूरी प्रक्रिया लाइन लगा कर और नियमों के तहत पूरी करवाई गई।

यह भी पढ़ें 👉  RTI में खुलासा, विधायक निधि खर्च करने में नंबर वन हैं संजीव आर्य

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड के राशनकार्ड धारकों के लिए नया अपडेट, चीनी को लेकर जारी हुए निर्देश

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी: वीडियो कॉल कर परिवार को दी थी सुसाइड की धमकी,जंगल में मिला युवक का शव, सनसनी

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: फर्जी रिपोर्ट से हो रही थी सीमा में एंट्री, कैबिनेट मंत्री ने बॉर्डर पर पहुंचकर पकड़ी गड़बड़ी

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड:जांच हेतु सैंपल नहीं दिए तो बंद हो जाएगा ग्रामीणों का घर से बाहर निकलना,DM का सख्त फैसला

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad - Vendy Sr. Sec. School

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top