Nainital-Haldwani News

नैनीताल: सात कैंटर चालकों से वन विभाग ने वसूला 1.65 लाख रुपए जुर्माना, हैरान कर देगा कारण


रामनगर: ये बात किसी से छिपी नहीं है कि क्षेत्र में अवैख खनन धड़ल्ले से चलता है। इसी अवैध उपखनिज को छिपाने के लिए अधिकतर ट्रक व कैंटर चालक कागजों में कम और और वाहनों में अधिक उपखनिज भरकर ले जाते हैं। ऐसे ही सात कैंटरों को पहाड़ जाते समय मोहान में पकड़ लिया गया। जिनसे डेढ़ लाख रुपए से भी अधिक जुर्माना वसूला किया गया।

दरअसल रामनगर वन प्रभाग की कोसी रेंज के रेंजर ललित मोहन जोशी मोहान में चेकिंग कर रहे थे। वह वन विभाग के बैरियर पर ही कर्मचारियों के साथ मिलकर पहाड़ की तरफ जा रहे वाहनों की चेकिंग कर रहे थे। इतने में सात कैंटरों को चेकिंग के लिए रोका गया। जब कागजातों और पीछे भरे उपखनिज की जांच की तो दूध का दूध पानी का पानी हो गया।

कागजों में उपखनिज की जो मात्रा 80 क्विंटल अंकित की हुई थी। वही मात्रा असलियत में काफी बड़ी हुई थी। मतलब तीन वाहनों में 30-30 क्विंटल, तीन वाहनों में 20-20 क्विंटल व एक वाहन में 15 क्विंटल उपखनिज अधिक भरा हुआ था। वन विभाग की टीम ऐसी चोरियों के लिए ही ताक लगाए बैठी थी। इतने में ही सात कैंटरों को पकड़ लिया गया।

फिर रोक कर उन पर जुर्माना लगाया गया। जानकारी के अनुसार वन अधिनियम के तहत वाहन चालकों से अवैध उपखनिज ले जाने के लिए 1.65 लाख रुपए का जुर्माना वसूला गया। थोड़ा पीछे जाकर आपको बता दें कि यह उपखनिज स्टोन क्रशर से वाहनों में भरा जाता है। अधिकतर देखा गया है कि कोसी नदी से चुराए गए अवैध उपखनिज को ठिकाने लगाने के लिए वाहनों में क्षमता से अधिक उपखनिज भरकर भेजा जाता है। अतिरिक्त उपखनिज अवैध की श्रेणी में आता है। वन बीट अधिकारी वीरेंद्र पांडे ने बताया कि जुर्माना वसूलने के बाद वाहनों को छोड़ दिया गया था।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में 10वीं पास युवाओं की भी लगेगी पोस्ट ऑफिस में नौकरी, तुरंत करें आवेदन

यह भी पढ़ें: वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल के लिए टीम इंडिया का चयन,देहरादून के अभिमन्यु ईश्वरन को मिली जगह

यह भी पढ़ें: नैनीताल: शुरू हुई पुलिस की एंबुलेंस सेवा, जवानों समेत स्थानीय लोगों भी मिलेगी मदद

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी के नवनीत राणा की अनोखी पहल, गरीब व्यक्ति को एक रुपए में मिलेंगी कोरोना की दवाइयां

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में आदेश जारी, सभी सरकारी महाविद्यालयों में करीब एक महीने की छुट्टी घोषित

यह भी पढ़ें: अल्मोड़ा में लगा वीकेंड Curfew, डीएम ने तत्काल प्रभाव से लागू किया

यह भी पढ़ें: नैनीताल: कोरोना के दौर ने चिड़ियाघर के जानवरों को दिया जंगल वाला बेहतर जीवन

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top