Rajasthan

राजस्थान में विधानसभा चुनाव, कांग्रेस विधायक ने गहलोत और पायलट को लेकर दिया बड़ा बयान


नई दिल्ली:– राजस्थान की सियासत में तंज और बयानों की राजनीति लगातार देखने को मिल रही है। ये राजनीति अलग अलग पार्टी के बीच ही नहीं बल्कि पार्टी के अंदर भी नजर आ रही है।
इस साल के अंत में राजस्थान में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस के दो दिग्गज नेता आमने सामने खड़े है। एक और जहां अशोक गहलोत का अनुभव है वहीं दूसरी तरफ सचिन पायलट की युवा सोच है। कांग्रेस में अब दुविधा यह है कि वह सिर्फ गहलोत का चेहरा आगे रख कर चुनाव लड़ेगी या गहलोत के साथ सचिन पायलट का चेहरा भी रखेगी। बता दिया जाए कि राहुल और प्रियंका गांधी की सचिन से नजदीकी के बावजूद गहलोत 2018 से सचिन पायलट को मात देते आ रहे हैं। इस ही कारण इन दोनो पक्षों का टकराव समय समय पर राजस्थान की जनता को देखने के लिए मिलता रहता है।


इस ही मुद्दे पर हाल ही में कांग्रेस नेता खिलाड़ी लाल बैरवा का बयान सामने आया है। बैरवा से राजस्थान में एक प्रेस वार्ता के दौरान कांग्रेस पार्टी और सरकार के ढांचे में बदलाव के बारे में सवाल किया गया था। इस सवाल पर बैरवा ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि सब हाईकमान पर निर्भर है, उन्हें इसका कोई अंदाजा नहीं है। साथ ही उन्होंने कहा कि हमारी मांग और पूरे राज्य की इच्छा है कि सचिन पायलट को आगे लाया जाए और उनके नेतृत्व में चुनाव लड़ा जाए।


एक और जहां पायलट गुट सचिन को नए मुख्यमंत्री के रूप में देखना चाहता है वहीं गहलोत पार्टी के लोगो का कहना है कि अब बहुत देर हो गई है।बता दिया जाए कि कांग्रेस का 85वां अधिवेशन छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में 24, 25 और 26 फरवरी को आयोजित किया जाएगा। राजस्थान में दिसंबर में होने वाले चुनाव को ले कर इस अधिवेशन से काफी उम्मीदें लगाई जा रही हैं। माना जा रहा है कि इस अधिवेशन के बाद कांग्रेस राजस्थान चुनाव के लिए अपने दावेदार का नाम स्पष्ट कर सकती है।

To Top